--Advertisement--

रात को १२.३० बजे नशे में धुत कॉन्स्टेबल ने किया लड़की का पीछा, कट्टा लहराकर धमकाया

रात को १२.३० बजे नशे में धुत कॉन्स्टेबल ने किया लड़की का पीछा, कट्टा लहराकर धमकाया

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2017, 12:58 PM IST
पीडि़त लड़की पीडि़त लड़की

भोपाल। गुनगा थाने के नशे में धुत कॉन्स्टेबल ने पीएचक्यू के पास एक डांस टीचर का रास्ता रोका और कट्टा दिखाकर उसके साथ गाली-गलौज की। इतना ही नहीं अपने साथी के साथ वह दो किमी तक स्कूटी सवार युवती का पीछा कर गंदी फब्तियां कसता रहा। इतने पर भी उसका मन नहीं माना तो लड़की के घर के पास टक्कर मारकर उसे स्कूटी से गिरा भी दिया और कट्टा दिखाकर धमकियां देने लगा। शनिवार को एक अन्य जांच के मामले में कॉन्स्टेबल को बर्खास्त कर दिया गया है। लड़की का शोर सुनकर इकट्ठा हो गई भीड़...

भीड़ ने जमकर की पिटाई...
लड़की का शोर सुनकर कॉलोनी के लोग मौके पर पहुंच गए और दोनों युवकों को पकड़ लिया। भीड़ ने पहले तो उन्हें जमकर पीटा फिर जहांगीराबाद पुलिस के हवाले कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी के पास से एक देशी कट्टा जब्त किया। एसपी साउथ राहुल लोधा के मुताबिक दोनों आरोपियों के खिलाफ छेड़छाड़, गाली गलौज, आर्म्स एक्ट की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

बगैर बताए गायब था आरक्षक
जानकारी के अनुसार नरसिंहपुर निवासी निश्चय वर्ष 2014 से गुनगा थाने में पदस्थ है। इन दिनों वह लालघाटी में रहता है। बीती 21 जुलाई से वह बगैर किसी सूचना के थाने से गायब है। गुरुवार को वह अपने रिश्तेदार विक्रांत राजपूत के अशोका गार्डन स्थित घर गया था। विक्रांत ने बताया कि दोनों ने उसके कमरे पर शराब पी। इसके बाद दोनों निश्चय की कार से लालघाटी स्थित उसके घर लौट रहे थे।

लड़की ने सुनाया घटनाक्रम
मैं एक इवेंट मैनेजमेंट कंपनी चलाती हूं और वेडिंग प्लानर भी हूं। अरेरा कॉलोनी में रहने वाले एक परिवार की महिलाओं को डांस सिखाकर रात करीब 12 बजे स्कूटी से घर लौट रही थी। जेल पहाड़ी पर पीछे से सफेद रंग की आई-10 कार आई। इसमें दो युवक सवार थे। ड्राइविंग सीट पर बैठा युवक फब्तियां कसते हुए गाली देने लगा। विरोध किया तो बोला- तू मुझे जानती नहीं है। मैं गुनगा थाने का सिपाही निश्चय तोमर हूं। वह पीछे-पीछे मेरी कॉलोनी के पास तक पहुंच गया। उसने मेरी स्कूटी को टक्कर मारी तो मैं गिर गई। उसने कट्टा निकाल लिया और जान से मारने की धमकी देने लगा। मेरी आवाज सुनकर लोगों ने आकर मुझे बचाया।

उसी दिन कर दिया था सस्पेंड
-इसके पहले शुक्रवार को ही केस दर्ज होने के बाद गुनगा थाने में पदस्थ आरोपी कॉन्स्टेबल निश्चय तोमर को सस्पेंड कर दिया गया था। जहांगीराबाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले रखा है। देर रात हुए हंगामे में जहांगीराबाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कराई थी। पुलिस ने सुबह से इस मामले की गंभीरता से जांच शुरू कर दी है। अवैध हथियार रखने का मामला भी दर्ज किया गया है।

आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज...

X
पीडि़त लड़कीपीडि़त लड़की
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..