Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Statement About Bhopal Dushkarm By Leader Of The Opposition Ajay Singh

नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह

नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह

Sushma Barange | Last Modified - Nov 04, 2017, 11:38 AM IST

भोपाल। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म की घटना को शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि यह घटना निर्भया कांड से भी घिनौना हादसा है और शिवराज सिंह चौहान की सरकार पर अपराधियों का तमाचा है।

-सिंह ने पीएम और केंद्रीय गृह मंत्री को पत्र लिखकर बेटियों के साथ नापाक हरकत करने वालों को फांसी की सजा देने का कानूनी प्रावधान करने की मांग की है। सिंह ने पत्र में कहा है कि बेटियों के साथ अत्याचार करने वालों को फांसी की सजा देने का कानूनी प्रावधान किया जाना चाहिए। बेटियों की इज्जत खराब करने वाले दरिंदों को फांसी देने का कानून बनाने का अधिकार केंद्र को है।


-नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने शनिवार को गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह पर हमला बोला है। सिंह ने कहा कि भोपाल में छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कृत्य की इतनी बड़ी घटना हो गई और गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह कहां हैं यह पता ही नहीं। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री को पुलिस महानिदेशक के साथ गृहमंत्री से भी पूछना चाहिए।
-सिंह ने कहा कि इतनी गंभीर घटना के बाद भी गृहमंत्री का यह बयान कि पहले भी उत्पीड़न की घटनाएं होती थी, एक असक्षम और अकर्मण्य व्यक्ति ही ऐसा कह सकता है। शहर के बीचोंबीच इस शर्मनाक घटना से पूरी भाजपा सरकार पर कालिख लगी है। उन्होंने कहा कि राजधानी भोपाल में इतनी घिनौनी घटना के बाद रिपोर्ट न लिखने के ये हालात हैं तो दूर-दराज ग्रामीण क्षेत्रों में क्या हालात होंगे, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।
-नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सामूहिक दुष्कृत्य के मामले में पुलिस द्वारा एक निर्दोष युवक को पकड़ना गंभीर मामला है, उन्होंने कहा कि यह उदाहरण बताता है कि सरकार अपने चेहरे पर लगी कालिख छुपाने के लिए किस तरह गंभीर घटना में निर्दोष लोगों को अपराधी बनाती है। प्रदेश के अन्य जिलों में इस तरह की घटनाएं हुई हैं। सिंह ने कहा कि ऐसे सभी मामलों में हाईकोर्ट की निगरानी में जांच होनी चाहिए जिसमें निर्दोषों को फसाने के मामले सामने आए हैं।

क्या है मामला?

- घटना 31 अक्टूबर शाम की है। कोचिंग सेंटर से लौट रही 19 साल की लड़की को चार बदमाशों ने रोका। उसके साथ मारपीट और लूटपाट के बाद करीब की झाड़ियों में ले जाकर गैंगरेप किया। घटना स्थल से आरपीएफ चौकी (रेलवे पुलिस फोर्स) सिर्फ 100 मीटर दूर है।
- आरोपियों ने विक्टिम का मोबाइल फोन और कुछ जूलरी भी लूटी। पुलिस के मुताबिक, आरोपियों को लगा कि लड़की की मौत हो गई है तो वो उसे छोड़कर भाग गए।
- होश आने पर विक्टिम आरपीएफ थाने पहुंची। वहां से उसने पिता को घटना के बारे में जानकारी दी। उसके पिता आरपीएफ में ही हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×