Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» This Girl Made An Air Bike.

सीएम भी कर चुके हैं इसकी तारीफ...

सीएम भी कर चुके हैं इसकी तारीफ...

Sushma Barange | Last Modified - Nov 13, 2017, 06:56 PM IST

भोपाल। प्रशासन अकादमी में 44वीं जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण प्रदर्शनी शुरू हुई। प्रदर्शनी में देश के विभिन्न राज्यों से आए चुनिंदा प्रतिभागियों ने अपने बनाए मॉडल्स में बड़े ही अलग अंदाज में अपनी साइंस क्रिएटिविटी दिखाई है।

-स्टूडेंट्स को साइकिल चलाने से होने वाली थकान से बचाने के लिए ओडिशा की आठवी क्लास की स्टूडेंट तेजस्विनी कुमारी ने हवा से चलने वाली बिना पैडल की एयर बाइक बनाई। हवा संग्रहित करने वाली टंकी साइकिल में बंधी होती है, जो कि पाइप से इंजन में लगे रोटर से जुड़ी है। टैंक की हवा पाइप से इंजन में लगे जेट में जाती है, तो जेट का नोजल वायु की ऊर्जा को बढ़ाकर रोटर के पास छोड़ता है, जिससे ब्लेड पर हवा के टकराने से रोटर घूमने लगता है। इसके आगे लगे छह गीयर इसकी ऊर्जा को और भी बढ़ाते हैं।

dainikbhaskar.com से बात करते हुए तेजस्विनी ने बताया कि वह अब इसी प्रकार की साइकल दिव्यांग लोगों के लिए बनाना चाहती है। उनका मानना है कि इस तरह की साइकल दिव्यांग लोगों के लिए ज्यादा कारगर साबित हो सकती है। तेजस्विनी ने बताया कि यदि मध्य प्रदेश सरकार पहल करे तो वे इसकी शुरुआत मध्य प्रदेश से कर सकती है। तेजस्विनी ने कहा कि वे कई जगह पर एग्जीबिशन लगाने के लिए की जा चुकी है। लेकिन, भोपाल आकर उन्हें काफी अच्छा लगा। यहां का माहौल और खासकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उन्हें काफी पसंद आए ।


सीएम भी कर चुके हैं इसकी तारीफ...
-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी तेजस्वी की इस साइकिल की तारीफ कर चुके हैं। 10 रुपए की एयर में ये बाइक 30 से 40 किलोमीटर तक चलती है, जो कि पेट्रोल और डीजल से काफी कम दामों में है। तेजस्विनी ने बताया कि इस साइकिल को बनाने में उन्हें 8 हजार रुपए का खर्चा आया है।

इस तरह आया आइडिया...
-तेजस्वी ने बताया कि, मैं अपने पिता के साथ एक गैराज पर गई थी। वहां काम कर रहे एक अंकल एयर प्रेशर के माध्यम से गाड़ियों के नट-बोल्ट खोल रहे थे। बस यहीं से एयर बाइक बनाने का आइडिया दिमाग में आ गया। मैंने विचार किया कि ईयर में इतना प्रेशर होता है, तो क्यों न इसी एयर से साइकिल को भी चलाया जाए। इसके बाद मैंने एयर बाइक बनाने के प्रयास शुरू किए, जिसमें मेरे पिता ने भी मेरा काफी सहयोग किया। काफी मेहनत के बाद उन्होंने अपनी साइकिल को एयर बाइक बनाने में सफलता हासिल की। तेजस्विनी ने कहा कि, यदि यही फार्मूला बड़े स्तर पर मोटरसाइकिल और कारों में इस्तेमाल किया जाए तो प्रदूषण काफी हद तक रोका जा सकता है।


ऐसे काम करती है ये बाइक...
इस बाइक में हवा संग्रहित करने के लिए एक टंकी बंधी है, जो कि पाइप से इंजन में लगे रोटर से जुड़ी है। टैंक की हवा पाइप से इंजन में लगे जेट में जाती है तो जेट का नोजल वायु की ऊर्जा को बढ़ाकर रोटर के पास छोड़ता है, जिससे ब्लेड पर हवा के टकराने से रोटर घूमने लगता है। इसके आगे लगे छह गियर इसकी ऊर्जा को और भी बढ़ाते हैं।

आगे की स्लाइड्स में देखें और फोटोज...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×