Hindi News »Madhya Pradesh News »Bhopal News» Two Youths Drinking Tea Were Beaten By Six Police

छह सिपाहियों ने दो युवकों को इतना मारा कि हाथ-पैर टूट गए

छह सिपाहियों ने दो युवकों को इतना मारा कि हाथ-पैर टूट गए

Sumit Pandey | Last Modified - Nov 26, 2017, 02:54 PM IST

भोपाल। क्षेत्र के दो युवकों के साथ सुल्तानगंज थाने के आरक्षकों ने बिना किसी कारण के मारपीट कर दी। इससे गुस्साए लोगों ने थाने का घेराव कर दिया। इसके बाद सड़क पर जाम लगा दिया। जानकारी मिलते ही तहसीलदार और एसडीओपी सिलवानी मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाकर शांत किया। तब कहीं जाकर लोगों ने आंदोलन समाप्त किया।

सुल्तानगंज हायर सेकंडरी स्कूल के प्राचार्य बद्री प्रसाद रैकवार का पुत्र दीपक रैकवार शुक्रवार शाम सात बजे खेत से वापस घर लौट रहा था। बस स्टैंड पर लक्ष्मण अहिरवार मिला और वे दोनों पर वहां पर एक होटल पर चाय पीने लगे, तभी वहां पर आरक्षक नरेंद्र रजक आया और इन दोनों को यहां से जाने के लिए कहने लगा। उन्होंने कहा कि जा रहे हैं। यह सुनते ही आरक्षक ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। इतना ही नहीं थाने में फोन करके पांच सिपाहियों को बुला लिया। उन सिपाहियों ने भी दोनों युवकों के साथ मारपीट की और उन्हें थाने ले आए। यह सूचना मिलने पर सरपंच पति महेंद्रसिंह सहित करीब 250 लोग थाने पहुंच गए।

-थाना प्रभारी से चर्चा के बाद दोनों को घर ले आए। सुबह दोनों युवकों का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक्सरे कराया गया तो उनके हाथ पैर फ्रैक्चर पाए गए। इसके बाद गांव के लोग भड़क गए और उन्होंने थाने का घेराव कर दिया। आक्रोशित लोग मारपीट करने वाले आरक्षकों पर प्रकरण दर्ज करने की मांग पर अड़ गए।

आक्रोशित लोगों ने करा दिया बाजार बंद
-इस घटना से आक्रोशित लोगों ने सुल्तानपुर का बाजार बंद करवा दिया। इसके बाद सड़क पर बैठ गए, जिससे जाम लग गया। जब यह जानकारी तहसीलदार आरके सिंह और सिलवानी एसडीओपी पीएन गोयल को लगी तो वे मौके पर पहुंच गए। उन्होंने आक्रोशित लोगों से चर्चा कर दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया।

पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई का भरोसा
-घटना की जानकारी मिलने पर पूर्व विधायक देवेन्द्र पटेल भी सुल्तानगंज पहुंच गए और आंदोलनकारियों के साथ दोषियों पर कार्रवाई की मांग पर अड़ गए। मौके पर पहुंचे जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेंंद्र सिंह तोमर ने फोन पर एसपी से बात की। एसडीओपी एनपी गाेयल और थाना प्रभारी मेहताब सिंह ने आंदोलनकारियों के बीच पहुंचकर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया, तब कहीं जाकर लोगों ने आंदोलन समाप्त किया।

- दोनों घायल युवकों का मेडिकल कराया गया है। मामले की जांच की जा रही है। घटनाक्रम से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। -मेहताब सिंह, थाना प्रभारी सुल्तानगंज थाना

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhopal

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×