मप्र / कैबिनेट का फैसला-20% घटेंगी कीमतें, फिर भी 353 लोकेशन पर दाम 50% तक बढ़ाने का प्रस्ताव

Cabinet decides -20% of prices will fall, still offer 50% increase on 353 locations
X
Cabinet decides -20% of prices will fall, still offer 50% increase on 353 locations

  • प्रॉपर्टी की नई कलेक्टर गाइडलाइन  कल केंद्रीय मूल्यांकन बोर्ड में होगी प्रस्तावित कीमतों पर चर्चा
  • शहर की वर्तमान कलेक्टर गाइडलाइन 3887 लोकेशन

Jun 23, 2019, 03:39 AM IST

भोपाल . एक जुलाई से प्रॉपर्टी के दामों की नई कलेक्टर गाइडलाइन लागू करने की तैयारी है। जिला मूल्यांकन समिति द्वारा प्रस्तावित कलेक्टर गाइडलाइन में कीमतें फाइनल करने का काम चल रहा है। रविवार शाम तक प्रस्तावित कीमतें तय कर ली जाएंगी। इसके बाद सोमवार को केंद्रीय मूल्यांकन बोर्ड में प्रस्तावित कीमतों पर चर्चा की जाएगी। इसके बाद जो कीमतें तय होंगी, उस पर 20 फीसदी प्रॉपर्टी की कीमतें घटाई जाएंगी। 


माना जा रहा था कैबिनेट द्वारा 20 फीसदी जमीनों के दाम घटा देने के बाद नई कलेक्टर गाइडलाइन में बढ़ोतरी का प्रस्ताव नहीं बनाया जाएगा, लेकिन जिला मूल्यांकन समिति शहर की 353 लोकेशंस पर बढ़ोतरी का प्रस्ताव देने जा रही है। भोपाल की वर्तमान कलेक्टर गाइडलाइन में 3887 लोकेशन हैं। जबकि जिला मूल्यांकन समिति के अफसर यह तर्क देते हैं कि चूंकि शहर में वर्तमान कलेक्टर गाइडलाइन से ज्यादा पर रजिस्ट्री हो रही हैं, इसलिए भोपाल की वर्तमान कलेक्टर गाइडलाइन 3887 लोकेशन में सिर्फ 353 चुनिंदा लोकेशन पर प्रॉपर्टी की कीमतें 5 से लेकर 50 फीसदी तक बढ़ाना प्रस्तावित किया है। सोमवार को केंद्रीय मूल्यांकन बोर्ड की बैठक में इसे मंजूरी के लिए रखा जाएगा। 


जिला मूल्यांकन समिति के सचिव और कांग्रेस से मध्य विधानसभा क्षेत्र के विधायक आरिफ मसूद ने अफसरों को जिला मूल्यांकन समिति की पिछली बैठक में प्रॉपर्टी के दाम नहीं बढ़ाने के निर्देश दिए थे, लेकिन पहली बार ऐसा हुआ कि जिला मूल्यांकन समिति ने उनके विरोध के बाद भी 353 लोकेशन पर प्रॉपर्टी के दाम बढ़ाने का प्रस्ताव केंद्रीय मूल्यांकन समिति को भेज दिया था। जबकि हर बार जिला मूल्यांकन समिति में विधायक की आपत्ति के बाद प्रॉपर्टी की बढ़ी हुई कीमतों को वापस ले लिया जाता था।

 

एक जुलाई से... लागू होगी नई कलेक्टर गाइडलाइन

 

शहर की प्रमुख चुनिंदा लोकेशन, जहां गाइडलाइन में 
प्रॉपर्टी के दाम बढ़ाने की तैयारी है... (दाम प्रति वर्गमीटर में)

 

सागर लैंडमार्क     14,000      21,000      50%
 
सागर रीगल     14000     19600     50%
 
पतंजलि परिसर      10,000      14,500      45% 
 
इम्पीरियल      11500     16100     40%
 
अटलांटिस, कटारा    1 7,000    23,000     35% 
 
माया एन्क्लेव     5500     7200     30% 
 
उमा विहार     8000      10,000     25% 
 
गोंदरमऊ      9000      10,800     20% 
 
आईबीडी भौंरी     7000      8100      15% 
 
आदित्य एवेन्यू      24,000     26,400     10% 
 
लांबाखेड़ा     6000      6300     05% 
 
नीलबड़      4500     4800      05% 
 
बावड़ियाकलां      21,000      23000      10%

 

 

2010 से 2015 तक 300 से 600 फीसदी तक कीमतें बढ़ीं : क्रेडाई के सदस्यों ने बताया कि भोपाल में 2010 से 2015 के बीच शहर के चुनिंदा इलाकों में प्रॉपर्टी के दाम 300 से लेकर 600 फीसदी तक बढ़े हैं, जबकि इंदौर में 30 से 50 फीसदी तक बढ़ोतरी हुई है। सरकार द्वारा 20 फीसदी प्रॉपर्टी गाइडलाइन में दाम कम किए जाने हैं। इससे भोपाल की अपेक्षा इंदौर के लोगों को ज्यादा फायदा होगा।

 

20 से जिलों में नहीं बढ़ेंगे दाम... पंजीयन मुख्यालय में 40 जिलों की कलेक्टर गाइडलाइन पहुंच चुकी हैं। सूत्रों ने बताया कि 20 से ज्यादा जिलों में दाम नहीं बढ़ाए जाएंगे। वहीं भोपाल, इंदाैर, जबलपुर व ग्वालियर में गाइडलाइन में प्रॉपर्टी के दामों में बदलाव किया जाएगा।

 

ये धोखा है... मंत्री से मिलकर बात करेंगे : सरकार पहले ही प्रॉपर्टी के दाम 20 फीसदी तक घटा चुकी है, कैबिनेट से इसका अनुमोदन भी हो गया है। इसके बाद भी अफसर सिर्फ राजस्व बढ़ाने के लिए चुनिंदा लोकेशन पर प्रॉपर्टी के दाम बढ़ाने पर अड़े हैं तो यह लोगों के साथ धोखा होगा। कीमतें न बढ़ें, इसके लिए वाणिज्यिक कर मंत्री बृजेंद्र राठौर से मिलेंगे। - नितिन अग्रवाल, अध्यक्ष, क्रेडाई भोपाल

 

बैठक में होगा फैसला - प्रदेश भर की प्रस्तावित कलेक्टर गाइडलाइन के संबंध में कीमतें तय करने का फैसला केंद्रीय मूल्यांकन बोर्ड की बैठक में होगा। इसमें जो दाम तय होंगे, उसमें 20 फीसदी प्रॉपर्टी के दाम घटाएं जाएंगे। - मनु श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव, वाणिज्यिक कर विभाग

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना