भोपाल / बीस दिन में शहर से बाहर हुए केवल 600 आवारा मवेशी - एक हफ्ते पूरे शहर को बनाना था कैटल फ्री



cattle in bhopal
X
cattle in bhopal

Dainik Bhaskar

Feb 05, 2019, 11:10 AM IST

भोपाल। आवारा मवेशी को शहर से बाहर करने का अभियान शुरू हुए बीस दिन बीत गए लेकिन अब तक केवल 600 मवेशी ही पकड़ कर विभिन्न गौ शालाओं में भेजे जा सके हैं। नतीजा शहर की सड़कों पर आज भी मवेशी नजर आ रहे हैं। यह स्थिति तब है जब पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने 15 जनवरी को हुई एक बैठक में केवल एक सप्ताह में शहर को कैटल फ्री बनाने का टारगेट दिया था।

 

पशुपालन मंत्री के निर्देश के बाद 16 जनवरी से नगर निगम ने अभियान शुरू किया था। पहले कहा गया कि पूरे शहर को कैटल फ्री किया जाएगा, लेकिन बाद में पूरे शहर की बजाय चुनिंदा स्थानों पर ही अभियान चलाने की बात कही गई।

 

आवारा मवेशी पकड़ने के लिए केवल चार वाहन: नगर निगम के पास आवारा मवेशी पकड़ने के लिए केवल चार वाहन हैं। हर एक वाहन में 8-10 पशु ही ले जाए जा सकते हैं। ऐसे में निगम एक दिन में 25 से 35 तक आवारा पशु पकड़ कर गौ शाला में भेजे जा रहे हैं। सोमवार को 52 मवेशी पकड़े गए और इन्हें कांजी हाउस में बंद किया गया। पहले से कांजी हाउस में बंद 48 मवेशी गौ शाला में भेजे गए। नगर निगम के अपर आयुक्त रणबीर कुमार ने कहा कि निगम अपने संसाधनों में वृद्धि करने के साथ शहर को कैटल फ्री करने के लिए कानूनी उपाय करने पर भी विचार कर रहा है। लगातार अभियान के कारण अब पहले की तुलना में कम मवेशी सड़क पर नजर आ रहे हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना