--Advertisement--

राजनीतिक घमासान / शिवराज बोले- कांग्रेस ने किसान और गरीब को कुछ नहीं दिया



मुलताई में जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री। मुलताई में जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री।
देपालपुर में आमसभा को संबोधित करते सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया। देपालपुर में आमसभा को संबोधित करते सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया।
X
मुलताई में जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री।मुलताई में जनसभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री।
देपालपुर में आमसभा को संबोधित करते सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया।देपालपुर में आमसभा को संबोधित करते सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया।

मुख्यमंत्री चौहान और सांसद ज्योतिरादित्य ने चलाए आरोपों के तीर

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 05:18 AM IST

बैतूल /मुलताई.  सीएम शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा मंगलवार को बैतूल जिले में रही। यात्रा का जिले में प्रवेश मुलताई से हुआ। इसके बाद यात्रा भैंसदेही, बैतूल, रानीपुर, घोड़ाडोंगरी होते हुए सारनी पहुंची। मुलताई के उत्कृष्ट स्कूल मैदान में हुई जनसभा में सीएम ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया।

 

उन्होंने कहा किसान का बेटा तीसरी बार सीएम बन गया तो कांग्रेस को तकलीफ हो रही है, कि कहीं चौथी बार भी सीएम ना बन जाए। कांग्रेसी मुझे कभी नालायक, कभी मदारी कहते हैं। सीएम ने कहा कि कांग्रेस की सरकार 60 सालों तक गरीबी हटाओ का नारा लगाती रही, लेकिन कभी गरीबी नहीं हटाई।

उन्होंने किसानों से कहा- कांग्रेस ने अपने शासनकाल में किसानों की भलाई के लिए कुछ नहीं किया। किसानों को कांग्रेस राज में 18% ब्याज पर कर्ज मिलता था, हमने 0% पर शुरू किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान को अब सोयाबीन के विक्रय के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। सोयाबीन का वाजिब दाम मिलेगा।

 

इस बार सोयाबीन 3400 रुपए क्विंटल खरीदा जाएगा। दूसरी ओर कांग्रेस के पूर्व विधायक सुखदेव पांसे समेत 122 कार्यकर्ताओं को पुलिस ने मुलताई में गिरफ्तार कर लिया। ये सभी सभा स्थल की तरफ सीएम को ज्ञापन देने जा रहे थे। बैतूल में 70 कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया गया है।

 

इधर, सिधिंया ने कहा- वे कहते हैं गरीबों की सरकार है तो यात्रा की जरूरत क्यों पड़ी

देपालपुर/महू.  मध्यप्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति प्रभारी व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने देपालपुर में हुई आमसभा में आरोप लगाते हुए कहा कि शिवराजजी द्वारा निकाली गई नर्मदा सेवा यात्रा, सेवा यात्रा नहीं थी। वह तो नर्मदा सर्वे यात्रा थी, उसका मकसद था दिन में भ्रमण व रात में रेत खनन। उन्होंने कहा- शिवराजजी कहते हैं उनकी सरकार जनता की सरकार है।

 

गरीबों का भला करने वाली सरकार है। फिर उन्हें साढ़े चार साल बाद जनआशीर्वाद यात्रा निकालने की जरूरत क्यों पड़ी। जो सीएम जगह-जगह हेलिकाप्टर से जाया करते थे, वे बस से भ्रमण पर निकले जरूर पर राज्य परिवहन की सरकारी नहीं, गुजरात से आई ढाई करोड़ की अत्याधुनिक बस में सवार होकर। वे उस पर सवार होकर छत पर भगवान की तरह प्रकट होते हैं। सिंधिया सभास्थल पर ट्रैक्टर में सवार होकर रोड-शो करते हुए पहुंचे।

 

जावरा के कालूखेड़ा में उन्होंने पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह कालूखेड़ा की प्रतिमा का अनावरण भी किया। सिंधिया को जावरा में करणी सेना ने काले झंडे दिखाए। दूसरी ओर आगर-मालवा के कानड़ में जनजागरण यात्रा लेकर पहुंचे प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने आरोप लगाते हुए कहा कि शिवराज तो असली किसान नहीं हैं, उनकी जीवनशैली अरब पति जैसी है। सभा को युवा कांग्रेस अध्यक्ष कुणाल चौधरी ने भी संबोधित किया।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..