मप्र / दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा के खुदकुशी करने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- मप्र कभी उप्र नहीं बनेगा

दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब में कूदकर खुदकुशी कर ली है। दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब में कूदकर खुदकुशी कर ली है।
पुलिस ने बताया कि है मामले की जांच कर रहे हैं। पुलिस ने बताया कि है मामले की जांच कर रहे हैं।
X
दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब में कूदकर खुदकुशी कर ली है।दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब में कूदकर खुदकुशी कर ली है।
पुलिस ने बताया कि है मामले की जांच कर रहे हैं।पुलिस ने बताया कि है मामले की जांच कर रहे हैं।

  • शिवराज सिंह ने ट्वीट कर रिकॉर्ड समय में न्याय दिलाने की मांग की 
  • दमोह में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने तालाब में कूदकर कर ली थी खुदकुशी 
  • गांव के ही चार युवकों पर है छेड़छाड़ का आरोप, पुलिस को पीएम रिपोर्ट का इंतजार

दैनिक भास्कर

Dec 07, 2019, 01:55 PM IST

भोपाल/दमोह. जिले के जबलपुर नाका चौकी क्षेत्र के लिधौरा समन्ना में रोज-रोज की छेड़छाड़ से तंग आकर बुधवार शाम तालाब में कूदकर छात्रा ने आत्महत्या कर ली थी। शनिवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ से जब इस सबंध में पूछा गया कि एमपी छेड़छाड़ और दुष्कर्म के मामले में यूपी बन रहा है तो उन्होंने कहा- ''मध्य प्रदेश कभी उत्तर प्रदेश नहीं बनेगा, आप देखते देखते जाइए आगे क्या होता है।'' 

वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस पर ट्वीट करके कहा है कानून और राज्य सरकार से आग्रह है कि बेटी को जल्द से जल्द इंसाफ दिया जाए। चौहान ने लिखा है 'मेरी बच्ची हम तुझसे वादा करते हैं कि उन दरिंदों को सजा दिलाने से पहले चैन से नहीं बैठेंगे।'

पुलिस ने मामले से जुड़े प्रत्यक्षदर्शियों के बयान लिए हैं। हालांकि अभी परिजनों के बयान नहीं हो पाए हैं। जो बयान प्रत्यक्षदर्शियों के सामने आए हैं, उसमें स्पष्ट हो गया है कि छात्रा ने तालाब में कूदकर ही आत्महत्या की है। यहां पर बता दें कि समन्ना लिधोरा निवासी कक्षा 12वीं छात्रा अंजली पिता माधव अठ्या (18) ने बुधवार शाम गांव से तीन किमी दूर तालाब में कूदकर जान दे दी थी। मृतका के पिता माधव ने गांव के ही चार युवकों द्वारा बेटी को परेशान करने का आरोप लगाया था। उसने कहा कि आरोपी दो-तीन माह से बच्ची को परेशान कर रहे थे, बेटी ने यह बात घर पर बताई थी।

प्रत्यक्षदर्शी गौतम अठ्या और परषोत्तम अठ्या ने बताया कि जिस वक्त छात्रा तालाब में कूदी थी, वे मौके पर थे और एक टपरे के पास बैठे थे। छात्रा दौड़ते हुए आई और अचानक तालाब में कूद गई। वे लोग दौड़कर तालाब की ओर भागे और छात्रा को बचाने के लिए तालाब में छलांग लगाई, लेकिन कीचड़ होने की वजह से छात्रा उसमें फंस गई और उसे तुरंत बाहर नहीं निकाला जा सका। उसकी मौत हो चुकी थी। घटना बुधवार शाम 5.30 बजे की है। 6.10 मिनट पर छात्रा को परिजन जिला अस्पताल लेकर पहुंच गए थे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। 

पुलिस कर रही है पीएम  रिपोर्ट का इंतजार : जबलपुर नाका चौकी पुलिस का कहना है कि छात्रा ने आत्महत्या की है, यह तय है। अभी पीएम रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट मिलने और परिजनों के बयानों के आधार पर अगली कार्रवाई की जाएगी। अब तक मामले में कोई आरोपी गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना