सुसाइड / सूदखोरों से परेशान होकर ऊर्जा विकास निगम के क्लर्क ने ट्रेन से कटकर जान दी

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 12:28 AM IST



clerk committed suicide
X
clerk committed suicide

  • डेढ़ के बदले 4 लाख दे चुका हूं, फिर भी मांग कम नहीं हो रही 
  • बावड़ियाकलां फाटक के पास ट्रैक पर मिला शव

भोपाल. सूदखोरों से परेशान होकर ऊर्जा विकास निगम के क्लर्क ने ट्रेन से कटकर अपनी जान दे दी। बावड़ियाकलां फाटक के पास रेलवे ट्रैक पर उनका क्षत-विक्षत शव बुधवार सुबह मिला है। पुलिस को जेब से सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें तीन सूदखोरों के नाम लिखे हैं। लिखा है कि डेढ़ लाख के एवज में अब तक मैं चार लाख रुपए दे चुका हूं, लेकिन सूदखोर की मांग कम नहीं हो रही है।

 

एएसआई शिवबाबू त्रिपाठी ने बताया कि बुधवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे बावड़ियाकलां फाटक के पास रेलवे ट्रैक पर एक अधेड़ का शव नजर आने की सूचना मिली थी। शव फाटक से करीब 50 कदम दूर मिसरोद की ओर था। मौके पर पहुंची पुलिस ने जेब की तलाशी ली। इसमें एक मोबाइल फोन, आधार कार्ड, पेन कार्ड, ऊर्जा विकास निगम की पे स्लिप और एक सुसाइड नोट मिला। इस आधार पर मृतक की पहचान राजहर्ष कॉलोनी, कोलार रोड निवासी 56 वर्षीय किशन सिंह राणा के रूप में हुई। वे ऊर्जा विकास निगम में क्लर्क थे। पुलिस ने कॉल कर परिवार को बुलाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

 

समीर, मीरचंदानी और संजय के लिखे नाम :
एसडीओपी अनिल त्रिपाठी ने बताया कि किशन की जेब से एक पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें समीर, मीरचंदानी और संजय के नाम लिखे हैं। साथ ही लिखा है कि डेढ़ लाख रुपए के बदले अब तक चार लाख रुपए दे चुका हूं। 50 हजार के एवज में इससे ज्यादा दे चुका हूं। इसके बाद भी मुझे परेशान कर रहे हैं। पुलिस ने सुसाइड नोट की जांच शुरू कर दी है।

COMMENT