पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

राजधानी में सुबह से छाए रहे बादल; प्रदेश में कई स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राजधानी भोपाल के सिंगारचोली ब्रिज का ड्रोन से ली गई तस्वीर। फोटो- शान बहादुर
  • अरब सागर से आ रही नमी और राजस्थान में ऊपरी हवाओं में बना चक्रवाती घेरा
  • इसी वजह से मध्यप्रदेश के मौसम में आ रहा है बदलाव, प्रदेश के कई जिलों में बूंदाबांदी

भाेपाल. अरब सागर से आ रही नमी और राजस्थान में ऊपरी हवाओं में बने चक्रवाती घेरे की वजह से मध्यप्रदेश के मौसम में भी बदलाव आ गया है, जिससे बादल होने के कारण कहीं कहीं हल्की वर्षा या बूंदाबांदी हो रही है। राजधानी भोपाल में सुबह से ही बादल छाए रहे और कहीं बूंदाबांदी भी हुई। 
 

ये भी पढ़ें
भोपाल में बारिश का नया रिकॉर्ड 169.4 सेमी 2006 में हुई सीजन की 168.4 सेमी बारिश का रिकाॅर्ड टूट गया
मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीके साहा ने को बताया कि अरब सागर के पूर्वी एवं मध्य क्षेत्र में कम दबाव का एक सिस्टम बन गया है, जहां से मध्यप्रदेश की ओर नमी आ रही है। इसी के साथ राजस्थान में भी ऊपरी हवाओं में 1.5 किलोमीटर ऊपर चक्रवती घेरा है। इससे मध्यप्रदेश के मौसम में भी कुछ बदलाव आया है और बादल बनने के साथ कल से कहीं कहीं हल्की वर्षा या बूंदाबांदी भी हो रही है। 
 
शनिवार को राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कुछ अन्या क्षेत्रों में भी हल्की वर्षा या बूंदाबांदी हो रही है। पिछले 24 घंटो के दौरान भी कटंगी, डिडोरी, एवं सिवनी मालवा में 20 मिमी तथा बिछिया, जेठारी एवं मुल्ताई में 10-10 मिमी बारिश हुई है। 
 
साहा ने बताया कि मौसम में आए इस बदलाव से कहीं कहीं हल्की वर्षा हो सकती है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में एक-दो दिन मौसम लगभग ऐसा ही बने रहने का अनुमान है। सबसे कम न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस बैतूूूूल में दर्ज किया गया है। 
 

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें