Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »Kolar Bhaskar» CM Announcement Bill Will Be Forgiven With All The Lawsuits Of The Power Company

जावरा में सीएम की घोषणा- बिल के साथ माफ होंगे बिजली कंपनी के सारे मुकदमे

7800 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया

Bhaskar News | Last Modified - Jul 12, 2018, 03:55 AM IST

जावरा में सीएम की घोषणा- बिल के साथ माफ होंगे बिजली कंपनी के सारे मुकदमे

जावरा/ शाजापुर/कालापीपल.मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को जावरा में कॉलेज मैदान में आयोजित मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना के तहत हुए ऊर्जा विकास अधोसंरचना कार्यक्रम में

कहा कि कितने भी पुराने बिजली बिल हो, माफ किए जाएंगे। जीरो बिल का प्रमाण-पत्र देंगे। जिन लोगों पर बिजली कंपनी की तरफ से मुकदमे बन गए, नोटिस थमा दिए वे वापस होंगे। इसके बाद दो पंखे, चार बल्ब, एक कूलर व एक टीवी चलाने वाले परिवारों को फिक्स रेट 200 रुपए महीने पर बिजली देंगे। इससे ज्यादा हुआ तो सरकार भरेगी लेकिन एसी और हीटर मत चलाना वरना मामा दिवालिया हो जाएगा। आप बिजली बचाएं ताकि व्यवस्था बनी रहे। इस योजना का लाभ लेने की कोई आखिरी तारीख नहीं है लेकिन प्रयास करें कि जल्द से जल्द कार्रवाई करें।

विभिन्न 7800 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण:सीएम ने सुवासरा सोलर प्लांट, सीतामऊ उपकेंद्र समेत प्रदेशभर की विभिन्न 7800 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास, लोकार्पण किया। सीएम ने सांसद-विधायकों से कहा शिविर लगवाओ, गरीबों को लाओ और बिल माफ करवाओ। सीएम ने कहा चार साल में आवासहीन व गरीब परिवारों के लिए 40 लाख घर बनाएंगे। हर साल दस लाख घर बनेंगे। अभी प्रदेश में 17 लाख घर बन रहे हैं। मैं खजाना लूटा नहीं रहा, गरीबों को हक दे रहा हूं। इनका हिस्सा दे रहा हूं। मप्र के खजाने पर सबसे पहला हक गरीबों का है।

आईटीआई और अरनियाकलां में नया कॉलेज खोलने की घोषणा :फसल बीमा योजना के दावा क्लेम वितरण कार्यक्रम के दौरान बुधवार को शाजापुर आए मुख्यमंत्री ने कालापीपल में तकनीकी शिक्षा के लिए आईटीआई और अरनियाकलां में नया कॉलेज खोलने की घोषणा कर दी। साथ ही करीब तीन साल पहले पोलायकलां में खुले कॉलेज में विज्ञान की कक्षाएं अगले सत्र से शुरू करने का भरोसा दिलाया है। उन्होंने मंडी में रेस्ट हाउस के लिए 1 करोड़ रुपए मंजूर कर दिए।


महिलाओं के लिए बोले : गर्भ धारण करते ही 4 हजार खाते में डालेंगे:बेटा-बेटी कोख में आते ही माता-बहन के खाते में 4 हजार डालेंगे ताकि फल खाएं, दूध पीएं। पौष्टिक खाना खाएगी तो बच्चा स्वस्थ, हट्‌टा-कट्टा पैदा होगा। हड्डी का ढांचा नहीं। कुपोषण का शिकार नहीं होगा। जन्म के बाद 12 हजार फिर खाते में डालेंगे, ताकि गरीब व मजदूर महिलाएं भी दो महीने मातृत्व अवकाश पर आराम करें। 60 साल से कम उम्र में असमय मृत्यु होने पर विधवा बहन को दो लाख रुपए देंगे। एक्सीडेंट में मृत्यु पर परिवार को 4 लाख रुपए देंगे। महिलाओं को आत्मनिर्भर करने के लिए आजीविका के कार्यक्रम चलाएंगे।

मंदसौर की बेटी : दरिंदों को फांसी पर लटकाने तक मुझे नहीं मिलेगा चैन:बेटियां देवी हैं लेकिन कुछ दरिंदे कलंक लगा रहे हैं। ऐसे दरिंदों, नरपिशाचों की फांसी के लिए कानून बनाया है। सुप्रीम कोर्ट तक पीछा नहीं छोड़ेंगे। सागर में फांसी की सजा सुनाई है। मंदसौर की बेटी मेरी व प्रदेश की भी बेटी है। उसके इलाज, शिक्षा व भविष्य बनाने में कसर नहीं छोडूंगा लेकिन मुझे चैन तभी मिलेगा जब दरिंदों को फांसी होगी। हम इस केस में लगातार फाॅलो कर रहे हैं। हम संकल्प लें ऐसे दरिंदों का सामाजिक बहिष्कार करेंगे।

कांग्रेस आड़े हाथ : जब तक रहेंगे दिग्गी, जलती रहेगी डिब्बी
सीएम ने कांग्रेस की पूर्व सरकारों को आड़े हाथ लिया। कहा आज हर घर में रोशनी है। पहले लोग कहते थे जब तक रहेंगे दिग्गी तब तक जलती रहेगी डिब्बी। इंदिराजी ने खूब नारे दिए थे कि गरीबी हटाएंगे। उनके समय क्या हुआ गरीबी तो नहीं हटी, गरीब ही हट गए। आज सरकार गरीबों के साथ है। यह नए युग की शुरुआत है।

ये भी बोले सीएम:हर भाई-बहन रहने की जमीन का मालिक होगा। पट्टा देकर मालिक बनाएंगे। कमिश्नर-कलेक्टर सुन लें, वे सूची बनाएं और लाभ दें। गरीब भी बच्चों को मेडिकल, इंजीनियरिंग या अन्य उच्च शिक्षा दिलाएं, उनकी फीस मामा भरेगा। गंभीर बीमारियों का इलाज सरकार करवाएगी। अंतिम संस्कार व अस्थि कलश विसर्जन के लिए 5 हजार की मदद मृतक के परिवार को देंगे। ऊर्जा मंत्री पारस जैन, सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक डॉ. राजेंद्र पांडेय ने भी संबोधित किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kolar Bhaskar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×