--Advertisement--

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस का भारत बंद कल, दिग्विजय सिंह ने कहा- रेत माफिया सीएम के संरक्षण में दादागिरी कर रहे हैं

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार को भारत बंद आवाह्न किया है

Danik Bhaskar | Sep 09, 2018, 07:47 PM IST

भोपाल। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में कांग्रेस ने सोमवार को भारत बंद आवाह्न किया है। बंद के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इससे पहले इसी महीने छह तारीख को स्पाक्स और सवर्ण समाज के एससी-एसटी एक्ट के विरोध में बंद से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था। इस बंद के दौरान पेट्रोल पंप एसोशिएसन पूरे प्रदेश के पट्रोल पंप बंद रखने की घोषणा की थी। लेकिन, इस बार पंप एसोसिएशन अध्यक्ष अजस सिंह ने कहा कि कोंग्रेस के पेट्रोल/डीज़ल की मूल्य वृद्धि को लेकर किये जा रहे बंद में प्रदेश के सारे पेट्रोल पंप खुले रहेंगे।


कांग्रेस ने अपने इस बंद को लेकर काफी तैयारी की है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और अजय सिंह ग्वालियर-चंबल संभाग में सभाएं लेंगे। दूसरे बड़े नेताओं को उनके प्रभाव वाले क्षेत्रों की जिम्मेदारी दी गई है। भोपाल में व्यापारियों का समर्थन प्राप्त करने शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने चौक बाजार से सुल्तानिया रोड तक पैदल मार्च निकालकर आमसभा को संबोधित किया।

मुख्यमंत्री बौखला गए हैं

दिग्विजय सिंह की रैली भवानी चौक से शुरू हुई जो चौक बाजार होते हुए इब्राहिमपुरा से सुल्तानिया रोड पहुंची। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री बौखला गए हैं, उन्होंने मुझे देशद्रोही तक कह डाला। वह भी बगैर किसी आधार के, जबकि वास्तविक जो भी पाकिस्तान के एजेंट जो भाजपा से संबंधित थे उन्हें रिहा कर दिया गया है। सिंह ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान का पूरा परिवार अवैध उत्खनन में शामिल है। रेत माफिया सीएम के संरक्षण में दादागिरी कर रहे हैं। अधिकारी कर्मचारियों को कुचला जा रहा है। इससे पहले दिग्विजय ने यहां पार्टी कार्यर्ताओं से भी संपर्क किया।

गोविंद गोयल ने की बंद को सफल बनाने की अपील

दिग्विजय के साथ कांग्रेस के कोषाध्यक्ष और वरिष्ठ नेता गोविंद गोयल ने व्यापारियों से मुलाकात कर बंद का समर्थन करने की अपील की। गोयल ने कहा कि प्रदेश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों के बढ़ने से आम जनता परेशान है। डीजल की कीमतें बढ़ने से जीवन उपयोगी वस्तुओं का परिवहन महंगा हो गया है। इसका बोझ आम जनता पर पढ़ रहा है। तत्कालीन यूपीएस सरकार की तुलना में आज क्रूड आइल काफी सस्ता है। केंद्र सरकार ने 10 लाख करोड़ रुपए की विदेशी मुद्रा की बचत की है।

प्रदेश चार रुपए अतिरिक्त टैक्स

मप्र में पेट्रोल पर वैट के अलावा 4 रुपए अतिरिक्त टैक्स वसूला जा रहा है। इसके बाद भी पेट्रोलियम पदार्थ सस्ते नहीं किए जा रहे हैं। डालर के दाम बढ़ रहे हैं, रुपए का अवमूल्यन हो रहा है। रैली में स्थानीय विधायक आरिफ अकील, जिला कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, पार्टी के महासचिव पीसी शर्मा, प्रकाश चौकसे, आकाश खरे, मोहम्मद सरवर, नेता प्रतिपक्ष मोहम्मद सगीर समेत अन्य नेता मौजूद थे।