--Advertisement--

रेलवे / शताब्दी के टॉयलेट में डेढ़ घंटे फंसे रहे कांग्रेस नेता, घर पर बेटे को फोन किया, लॉक तोड़कर बाहर निकाला गया



X

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 03:08 PM IST

भोपाल.  मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व संगठन महामंत्री चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी शताब्दी ट्रेन के टॉयलेट में फंस गए। वह करीब डेढ़ घंटे तक फंसे रहे। बड़ी मशक्कत के बाद उनको बाहर निकाला गया। दरअसल, टॉयलेट गए कांग्रेस नेता दरवाजे की चटखनी यानी लॉक जाम होने से उसमें फंस गए। पहले तो उन्होंने कुछ देर दरवाजा खटखटाया, जब किसी ने नहीं सुना तो बेटे को फोन लगाया। बेटे ने रेलवे के हेल्पलाइन नंबरों पर फोन लगाए। 

 

विदिशा स्टेशन पर हुई घटना 
शताब्दी एक्सप्रेस भोपाल स्टेशन से दोपहर 3.22 बजे चली। कोच सी-4 की बर्थ 33 पर वह सफर कर रहे थे। ट्रेन विदिशा पहुंचने वाली थी तभी वे टॉयलेट गए। जब बाहर निकलने के लिए चटखनी खोलनी चाही तो नहीं खुली। वे गेट खटखटाते रहे लेकिन किसी ने नहीं सुना, तब चार बजकर 20 मिनट पर उन्होंने बेटे नीरज द्विवेदी को फोन किया।

 

रेलवे हेल्पलाइन नंबरों पर लगाते रहे फोन 
नीरज ने पहले रेलवे के 138 नंबर पर फोन किया, किसी ने रिसीव नहीं किया, तो दूसरे टोल फ्री नंबर 1512 पर संपर्क किया और घटना की जानकारी दी। 30 मिनट बाद शाम 4.50 बजे ललितपुर जीआरपी से संपर्क हुआ। जीआरपी ने ट्रेन में चल रही तकनीकी टीम को कोच में भेजा। रेलवे के दो कर्मचारियों ने शाम पांच बजे हथौड़ी लेकर गेट खोलना शुरू किया। एक घंटे की मशक्कत के बाद गेट की चटकनी तोड़कर गेट खोलने में सफल हुए। चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी शाम 5.55 बजे बाहर आए। 
 

Bhaskar Whatsapp

Recommended