--Advertisement--

ग्वालियर: मासूम से दुष्कर्म मामले की गवाही शुरू, प्रशासन ने तोड़ा आरोपी का मकान

बच्ची के शरीर पर चोटों के 19 निशान मिले थे।

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2018, 06:12 PM IST
court news gwalior

ग्वालियर। कैंसर पहाड़िया पर 6 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के मामले में जैसे-जैसे गवाह अपने बयान दर्ज करा रहे हैं, वैसे-वैसे आरोपी के गले में फांसी का फंदा कसने की संभावना बढ़ती जा रही है। डॉ. सुधा अयंगर ने पंचम अपर सत्र न्यायाधीश अर्चना सिंह के समक्ष अपने बयान दर्ज कराए। उन्होंने बताया कि उन्होंने आरोपी के खून का नमूना और अंगूठे के निशान लिए गए थे। डॉ. सार्थक जुगरान ने बताया कि उन्होंने ही बच्ची का पोस्टमार्टम किया है। बच्ची के शरीर पर चोटों के 19 निशान मिले थे। जब उनसे ये पूछा गया कि क्या बच्ची के साथ दुष्कर्म किया गया? इस पर उन्होंने बताया कि दोनों जननांग पर चोट और सूजन थी, साथ ही खून के भी निशान थे। ऐसे में दुष्कर्म होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। उनके अलावा दो अन्य डॉक्टर, एक फोरेंसिक एक्सपर्ट व फोटोग्राफर ने भी अपने कथन दर्ज कराए।


इनके भी हुए कथन


डॉ. जेपी गोयल : इन्हें भी आरोपी को कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आरोपी दिखाया गया। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान आरोपियों की दोनों कोहनियों में खरोंच के निशान मिले थे। इसके अलावा उन्होंने आरोपी के नाखून व सिर के बाल के नमूने भी लिए थे। आरोपी संभोग करने में सक्षम है अथवा नहीं, इसका भी परीक्षण किया गया जिसके परिणाम पॉजिटिव आया।

अखिलेश भार्गव :फोरेंसिक एक्सपर्ट ने बताया कि बच्ची की उंगली में एक बाल मिला था जिसे कागज में रखकर जब्त कराया गया। यह बाल बाद में आरोपी जितेंद्र का ही निकला था। मौके पर कई मोती भी मिले थे, जो बच्ची की फ्रॉक के थे। फ्रॉक में भी कुछ मोती लगे थे और कुछ टूटे थे।

डॉ. राहुल यादव : इन्होंने बताया कि उनके घर में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज लेने के लिए प्रतनेश आठले और आकाश शर्मा उनके घर आए थे। उनके सामने ही डीवीआर की हार्ड डिस्क जब्त की गई थी। फुटेज में उन्होंने आरोपी को बच्ची को ले जाते हुए देखा था।

बालकृष्ण मैहोरिया : फोटोग्राफर बालकृष्ण ने बताया कि उनके द्वारा ही घटना स्थल के 20 फोटो लिए गए जो न्यायालय में प्रस्तुत किए गए हैं।


प्रशासन ने गिराया आरोपी का मकान

- शासकीय आयुर्वेद कॉलेज (कैंसर पहाड़ी) की जमीन पर मकान बनाकर रहने वाले दुष्कर्म के आरोपी जितेन्द्र उर्फ जीतू कुशवाह का मकान प्रशासन ने बुधवार को धराशायी कर दिया।

- तहसीलदार भूपेन्द्र सिंह कुशवाह शाम को पुलिस बल और नगर निगम के मदाखलत अमले को लेकर मकान पर पहुंचे। मकान के अंदर रखे सामान को बाहर निकलवाया गया।

- इसके बाद मदाखलत अमले के कर्मचारी मकान पर चढ़े और लोहे की चादरों को नीचे उतारा गया। मौके पर खड़ी जेसीबी की मदद से आरोपी के मकान को नीचे गिरा दिया गया।

- वहां कोई हंगामा नहीं हो, इसके लिए पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया है। वारदात के अगले ही दिन आसपास के लोगों में आरोपी और उसके परिवार के प्रति गुस्सा चरम पर पहुंच गया था।

- लोगों की भीड़ उस मकान को तोड़ने पहुंच गई थी लेकिन अधिकारियों ने उन्हें रोक दिया था। आरोपी के परिजन घर सूना छोड़कर कहीं चले गए।

X
court news gwalior
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..