• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Cyclone Vayu Effect: Cyclone Vayu brings rains, Vayu Winds in Bhopal, Gwalior; also gives pre monsoon

मप्र / प्री मानसून की दस्तक, ग्वालियर-खनियाधाना में बरसे मेघ; 50 किमी की रफ्तार से हवा और बारिश की चेतावनी

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 07:37 PM IST



प्री-मानसून गतिविधियों के चलते रायसेन में गुरुवार को सुबह गरज-चमक के साथ बारिश हुई। प्री-मानसून गतिविधियों के चलते रायसेन में गुरुवार को सुबह गरज-चमक के साथ बारिश हुई।
ग्वालियर के खनियांधाना में आंधी के साथ हुई बारिश से पेड़ भी टूट गए। ग्वालियर के खनियांधाना में आंधी के साथ हुई बारिश से पेड़ भी टूट गए।
तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से गर्मी से राहत मिली है। तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से गर्मी से राहत मिली है।
बारिश ने गर्मी से राहत दी, लेकिन उमस बढ़ गई। बारिश ने गर्मी से राहत दी, लेकिन उमस बढ़ गई।
भोपाल में दिनभर बादल और सूरज के बीच लुकाछिपी चली । भोपाल में दिनभर बादल और सूरज के बीच लुकाछिपी चली ।
बुधवार को कटनी क्षेत्र में बारिश हुई थी। इससे गर्मी से राहत मिली है। बुधवार को कटनी क्षेत्र में बारिश हुई थी। इससे गर्मी से राहत मिली है।
Cyclone Vayu Effect: Cyclone Vayu brings rains, Vayu Winds in Bhopal, Gwalior; also gives pre-monsoon
X
प्री-मानसून गतिविधियों के चलते रायसेन में गुरुवार को सुबह गरज-चमक के साथ बारिश हुई।प्री-मानसून गतिविधियों के चलते रायसेन में गुरुवार को सुबह गरज-चमक के साथ बारिश हुई।
ग्वालियर के खनियांधाना में आंधी के साथ हुई बारिश से पेड़ भी टूट गए।ग्वालियर के खनियांधाना में आंधी के साथ हुई बारिश से पेड़ भी टूट गए।
तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से गर्मी से राहत मिली है।तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से गर्मी से राहत मिली है।
बारिश ने गर्मी से राहत दी, लेकिन उमस बढ़ गई।बारिश ने गर्मी से राहत दी, लेकिन उमस बढ़ गई।
भोपाल में दिनभर बादल और सूरज के बीच लुकाछिपी चली ।भोपाल में दिनभर बादल और सूरज के बीच लुकाछिपी चली ।
बुधवार को कटनी क्षेत्र में बारिश हुई थी। इससे गर्मी से राहत मिली है।बुधवार को कटनी क्षेत्र में बारिश हुई थी। इससे गर्मी से राहत मिली है।
Cyclone Vayu Effect: Cyclone Vayu brings rains, Vayu Winds in Bhopal, Gwalior; also gives pre-monsoon

  • भोपाल में 26 दिन बाद तापमान 40 डिग्री से नीचे पहुंचा, ग्वालियर, इंदौर और जबलपुर में भी प्री-मानसून गतिविधि से मिली राहत 
  • दमोह में बिजली गिरने और तेज आंधी से पेड़ टूटने से दो बुजुर्गों की मौत हो गई

भोपाल. मध्य प्रदेश में प्री-मानसून गतिविधियां शुरू हो गई हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश के अनेक इलाकों में 50 किलोमीटर की रफ्तार से तूफान और तेज बारिश की चेतावनी जारी की है। भोपाल में 26 दिन बाद तापमान 40 डिग्री से नीचे आया है। ऐसा 19 मई को हुआ था, उस दिन भी 39.9 डिग्री तापमान था। भीषण गर्मी और उमस के बीच ग्‍वालियर के खनियाधाना में गुरुवार को दोपहर करीब 2 बजे से अचानक आसमान में बादल छाने लगे तथा देखते-देखते जोरदार आंधी के बीच जोरदार बारिश ने लोगों के चेहरे पर मुस्कान ला दी ।

 

 

लगातार 45-46 डिग्री सेल्सियस तापमान में लू के थपेड़े झेल रहे खनियाधाना सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में भी आधा घंटे जमकर बारिश हुई । जबलपुर में भी दोपहर बाद अच्‍छी बारिश हुई। कुछ स्‍थानों पर आंधी से पेड़ भी गिर गए। मौसम विभाग ने गुरुवार को प्रदेश के भोपाल और जबलपुर समेत 20 शहरों में तूफान आने और भारी बारिश की चेतावनी दी है। इसके साथ ही ग्वालियर और चंबल समेत 9 शहरों में धूल भरी आंधी के साथ बौछारें पड़ने की चेतावनी जारी की है। प्रदेश के पर्यटक स्थलों चित्रकूट और मैहर समेत सात शहरों में धूल भरी हवाओं के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान जताया है। 

 

26 दिन बाद भोपाल में तापमान 40 के नीचे पहुंचा 

प्री मानसून गतिविधियों के चलते तापमान में लगातार दूसरे दिन गिरावट दर्ज की गई। इसमें भोपाल में दो दिन में 5.2 डिग्री गिरकर 39.9 डिग्री दर्ज किया गया। भोपाल में 26 दिन बाद तापमान 40 डिग्री से नीचे आया है। ऐसा 19 मई को हुआ था, उस दिन भी 39.9 डिग्री तापमान था। वहीं, ग्वालियर में तापमान में दूसरे दिन भी गिरा और ये सामान्य से 4 डिग्री कम 37.2 डिग्री दर्ज किया गया। इंदौर में अधिकतम 37.6 (+1) और न्यनतम 26.4(+1) दर्ज किया गया। वहीं जबलपुर में 41.3 डिग्री और न्यूनतम 28.4 डिग्री रहा। 

 

दमोह में दो बुजुर्गों की मौत 

इधर, बुधवार को दमोह जिले के कुम्हारी थाना क्षेत्र के खकरा गांव में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक बुधवार को शाम खकरा गांव में बिजली गिरने से गौतम आदिवासी गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे एम्बुलेंस द्वारा पटेरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई, इसी तरह मडियादों थाना क्षेत्र के वर्धा गांव में तेज आंधी से पेड़ की डाल टूट गई, जिससे एक बुजुर्ग इमरत पटेल की मौत हो गई। 

 

ग्वालियर चंबल क्षेत्र में बौछारों से मिली राहत : श्योपुर, शिवपुरी और ग्वालियर में भी बीती रात कई स्थानों पर तेज बौछारों के कारण गुरुवार को सुबह से गर्मी में थोड़ी राहत मिली है। 

 

बढ़ेंगी प्री-मानसून गतिविधियां : स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के मुताबिक गुरुवार से प्रदेश के अनेक स्थानों पर प्री-मानसून की गतिविधियों के बढ़ने के आसार हैं। मौसम विभाग के अनुसार प्री मानसून गतिविधियों के बावजूद प्रदेश के दमोह, छतरपुर, रीवा, सतना, सिंगरौली, उमरिया एवं शहडोल में भीषण लू चल सकती है। इसके अलावा भोपाल सहित कुछ अन्य स्थानों पर भी लू के हालात बन सकते हैं। 

COMMENT