भोपाल / स्वाइन फ्लू से एक ओर मरीज की मौत, भोपाल में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या हुई 17



Death of one patient from swine flu
X
Death of one patient from swine flu

  • एम्स और जीएमसी की वायरोलॉजी लैब से देरी से आ रही जांच रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2019, 11:46 AM IST

भोपाल। राजधानी में स्वाइन फ्लू से सोमवार को एक और मरीज की मौत हो गई। इससे भोपाल में स्वाइन फ्लू से मरने वालों का आंकड़ा 16 से बढ़कर 17 हो गया है। वहीं दूसरी और शहर के अलग - अलग अस्पतालों में भर्ती स्वाइन फ्लू के 4 संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 125 हो गया है। 

 

प्रभारी सीएमएचओ डॉ. एनयू खांन ने बताया कि भोपाल के निजी अस्पताल में भर्ती राजगढ़ जिले के एक मरीज की जांच रिपोर्ट पिछले सप्ताह पॉजिटिव आई थी। सोमवार को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वह करीब 10 दिन की सर्दी, खांसी और बुखार की हिस्ट्री के साथ अस्पताल में भर्ती हुआ था। अफसरों के मुताबिक मरीज को स्वाइन फ्लू के अलावा दूसरी बीमारियों का संक्रमण था। इसके चलते स्वाइन फ्लू की दवाएं देने के बाद भी उसके फेंफड़ों का संक्रमण लगातार बढ़ता गया। इसके चलते उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। 

 

 

15 सैंपल्स में से 4 में मिला स्वाइन फ्लू का वायरस एच 1 एन 1 : एम्स स्थित रीजनल वायरोलाॅजी लैब में सोमवार को स्वाइन फ्लू के 15 संदिग्ध मरीजों की जांच की गई। इनमें से 4 के सुआब में स्वाइन फ्लू का वायरस एच 1 एन 1 मिला है। जबकि 11 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।  
 
इनफ्लूएंजा ए पॉजिटिव : इंट्रीग्रेटेड डिसीज सर्विलांस प्रोग्राम (आईडीएसपी) के अफसरों ने बताया कि आल इंडिया इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेस (एम्स) और गांधी मेडिकल कॉलेज स्थित वायरोलॉजी लैब से स्वाइन फ्लू के कई संदिग्ध मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। लेकिन, दोनों संस्थानों की लैब ने इन मरीजों को इनफ्लूएंजा पॉजिटिव होना बताया है, जिसके तहत स्वाइन फ्लू बुखार का वायरस एच 1 एन 1 भी आता है। अफसरों के मुताबिक एम्स और जीएमसी वायरोलॉजी लैब के विशेषज्ञ डॉक्टर्स को स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मरीजों के सेंपल की जांच एच 1 एन 1 स्ट्रेन के अलावा दूसरी स्ट्रेन पर भी लगाना चाहिए। ताकि बीमारी के असल कारण की जानकारी ट्रीटिंग डॉक्टर्स को मिल सके। 


24 घंटे में नहीं मिल रही जांच रिपोर्ट : आईडीएसपी अफसरों ने बताया कि एम्स और जीएमसी स्थित स्टेट वायरोलॉजी लैब से स्वाइन फ्लू के संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट सेंपल लिए जाने के 24 घंटे के भीतर नहीं मिल रही है। जबकि स्वास्थ्य संचालनालय ने स्वाइन फ्लू के मरीजों की जांच रिपोर्ट लैब में सेंपल जमा होने के 24 घंटे के भीतर संबंधित अस्पताल को देने के निर्देश दिए हुए हैं। बावजूद इसके मरीजों की जांच रिपोर्ट डॉक्टर्स को तय समय पर नहीं मिल रही हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना