• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Family Court case: Due to divorce, husband has accepted the condition, Wife's feet to hold in court

समझौता / तलाक न हो इसलिए पति ने मानी शर्त... कोर्ट में ही पकड़ लिए पत्नी के पैर

Dainik Bhaskar

Mar 15, 2019, 12:02 PM IST


Family Court case: Due to divorce, husband has accepted the condition, Wife's feet to hold in court
X
Family Court case: Due to divorce, husband has accepted the condition, Wife's feet to hold in court
  • comment

  • फैमिली कोर्ट में पहुंचा मामला, अलग-अलग तारीखों में तीन बार हुई काउंसलिंग के बाद सुधरे पति-पत्नी के रिश्ते

भोपाल. पति-पत्नी के बीच अहंकार की दीवार इतनी बड़ी हो जाती है कि नौबत तलाक तक पहुंच जाती है। ऐसे ही दो मामले भोपाल की फैमिली कोर्ट में पहुंचे। कोर्ट ने दोनों मामलों में काउंसलिंग कराई। एक प्रकरण में पति ने न केवल अपनी गलती मानी, बल्कि काउंसलर के सामने ही पत्नी की शर्त मानते हुए उसके पैर पड़ लिए। यह देख पत्नी ने पति को उठा लिया और माफ कर दिया। मामले में कोर्ट में समझौता हो गया। 

 

मंडीदीप निवासी महिला ने कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी लगाई थी। इसमें उसने बताया कि उसकी शादी फरवरी 2016 को होशंगाबाद में हुई थी। शादी के 9 माह बाद पति ने दहेज की मांग की। लेनदेन को लेकर झगड़ा इतना बढ़ गया कि पति ने उसके साथ मारपीट तक कर दी और घर से निकाल दिया। इसके बाद वह भाइयों को बुलाकर मायके चली गई। दो साल तक न तो पति लेने आया और न ही बातचीत की।

 

भाईयों की नाराजगी से टूटने की कगार पर पहुंच गया रिश्ता 
काउंसलर ने बताया कि महिला के भाई अपने जीजाजी से इतने नाराज थे कि वे बहन को उनसे बात ही नहीं करने देते थे। फैमिली कोर्ट की काउंसलर शैल अवस्थी ने बताया कि पहली काउंसलिंग में तो दोनों ने एक दूसरे से कोई बात नहीं की। जब भी पति, पत्नी से बात करने की कोशिश करता, तो भाई उत्तर देते। अवस्थी ने बताया कि इस मामले में एक बात समझ में आ गई थी कि झगड़ा दहेज की बात को लेकर ही हुआ है। पति ने स्वीकार किया कि उससे गलती हुई, लेकिन महिला भाइयों के कहने पर तलाक लेने के लिए अड़ी रही। 


भाइयों को बैठाया बाहर तब बनी बात 
एक पक्ष के मानने से प्रकरण में समझौते की गुंजाइश दिखाई दे रही थी। इसलिए दंपती को तीसरी काउंसलिंग में बुलाया। इस दौरान भाइयों को बाहर कर दिया था। 5 घंटे चली काउंसलिंग में पति ने पत्नी को मनाने की लगातार कोशिश की। काउंसलर के सामने महिला के मुंह से निकल गया कि पति पैर पकड़कर माफी मांगे तो शायद वह माफ कर दे। काउसंलर ने बताया कि इतना सुनते ही पति ने पत्नी के पैर पकड़ लिए और माफी मांगी। उन्होंने बताया कि पत्नी को उम्मीद नहीं थी कि उसका पति ऐसा भी कर सकता है। आखिरकार उसने पति कोे माफ कर ही दिया।
 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन