• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Four story under construction building torque, Empty hospital, late night collapse

भोपाल / चार मंजिला निर्माणाधीन बिल्डिंग झुकी; खाली कराना पड़ा अस्पताल, देर रात ढहाई



भोपाल में मंगलवार की रात को अशोका गार्डन में एक बिल्डिंग के खतरनाक तरीक से झुकने की वजह से देर रात ढहा दिया गया। भोपाल में मंगलवार की रात को अशोका गार्डन में एक बिल्डिंग के खतरनाक तरीक से झुकने की वजह से देर रात ढहा दिया गया।
इस दौरान अशोका गार्डन में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। इस दौरान अशोका गार्डन में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई।
घटना स्थल पर एक अस्पताल को खाली कराया गया। घटना स्थल पर एक अस्पताल को खाली कराया गया।
बाद में नगर निगम ने इस बिल्डिंग को ढहा दिया। बाद में नगर निगम ने इस बिल्डिंग को ढहा दिया।
इस दौरान नगर निगम का अमला मौके पर पहुंचा। इस दौरान नगर निगम का अमला मौके पर पहुंचा।
Four-story under construction building torque, Empty hospital, late night collapse
X
भोपाल में मंगलवार की रात को अशोका गार्डन में एक बिल्डिंग के खतरनाक तरीक से झुकने की वजह से देर रात ढहा दिया गया।भोपाल में मंगलवार की रात को अशोका गार्डन में एक बिल्डिंग के खतरनाक तरीक से झुकने की वजह से देर रात ढहा दिया गया।
इस दौरान अशोका गार्डन में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई।इस दौरान अशोका गार्डन में लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई।
घटना स्थल पर एक अस्पताल को खाली कराया गया।घटना स्थल पर एक अस्पताल को खाली कराया गया।
बाद में नगर निगम ने इस बिल्डिंग को ढहा दिया।बाद में नगर निगम ने इस बिल्डिंग को ढहा दिया।
इस दौरान नगर निगम का अमला मौके पर पहुंचा।इस दौरान नगर निगम का अमला मौके पर पहुंचा।
Four-story under construction building torque, Empty hospital, late night collapse

  • अशोका गार्डन इलाके में 80 फीट रोड स्थित आरआर हॉस्पिटल के पास का मामला 
  • दो घंटे में ही डेढ़ फीट तक झुक गया था मकान, घबराकर भागे मजदूर 

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2019, 03:32 PM IST

भाेपाल. 80 फीट राेड, अशाेका गार्डन में मंगलवार काे एक निर्माणाधीन मकान अचानक झुकने लगा। मकान के अंदर काम कर रहे मजदूर घबराकर बाहर भागे। करीब दाे घंटे में ही मकान करीब डेढ़ फीट तक झुक चुका था। यह देखकर वहां भीड़ जमा हाे गई। इसकी सूचना पुलिस और नगर निगम अमले काे दी गई। माैके पर पहुंचे पुलिस और नगर निगम अधिकारियाें ने निर्माणाधीन मकान काे गिराने का निर्णय किया है। हालांकि, देर रात तक यह तय नहीं हाे पाया था कि मकान गिराया कैसे जाए?

 

 

 

आरआर हॉस्पिटल के बगल में माेहम्मद इम्तियाज खान का 550 वर्गफीट का प्लाॅट है। इस पर टीनशेड वाली दुकान में वे सर्विंस सेंटर चलाते हैं। करीब चार महीने पहले उन्हाेंने यहां मकान का निर्माण शुरू किया था। चंद राेज पहले उन्हाेंने चाैथी मंजिल की छत डाली है। मंगलवार शाम छह बजे मकान में प्लास्टर किया जा रहा था।

 

जबकि, नीचे सर्विस सेंटर में मैकेनिक काम कर रहे थे। अचानक दीवार से मलबा गिरा, मैकेनिक और मिस्त्री भागकर बाहर निकले। उन्हाेंने देखा बिल्डिंग हॉस्पिटल की विपरीत दिशा में कुछ झुकी नजर आई। देखते ही देखते बिल्डिंग हॉस्पिटल की दीवार और बिल्डिंग की चाैथी मंजिल की छत में करीब डेढ़ फीट का गैप आ गया।

 

अस्पताल और एक मकान खाली कराया

बिल्डिंग के बगल में माैजूद आरआर हॉस्पिटल में पांच मरीज भर्ती थे। इन्हें यहां से निकालकर पास के दूसरे निजी अस्पताल में शिफ्ट किया गया। जबकि, मकान के दूसरी और करीब 10 फीट का रास्ता है इसके बाद तीन मंजिला मकान है। इसमें नीचे मेडिकल और मैकेनिक की दुकान हैं। पुलिस ने एहतियातन इस मकान काे भी खाली करा लिया है। 

 

ताेड़ने पर चला देर रात तक मंथन, बाद ढहाया  

इस पर चल रहा है मंथन माैके पर पहुंचे अतिक्रमण अधिकारी कमर साकिब और एई प्रमाेद मालवीय, आरके सक्सेना समेत तमाम जिम्मेदार यह विचार कर रहे थे कि मकान काे ताेड़ा कैसे जाए। पहले डायनामाइट लगाने की बात हुई। लेकिन, डायनामाइट लगाने से हॉस्पिटल काे नुकसान हाेने की आशंका थी। ऐसे में हाइड्राेलिक प्लेट फाॅर्म पर कर्मचारी काे खड़ा करके हैमर से बिल्डिंग गिराना तय हुआ था। हालांकि, देररात तक बिल्डिंग काे गिराने की कार्रवाई शुरू नहीं हुई थी।


आधा किलाे मीटर तक जाम : जैसे ही लाेगाें काे पता लगा कि बिल्डिंग झुक रही हैं। मैन राेड पर लाेगाें काे जमावड़ा लग गया। पुलिस ने बिल्डिंग के दाेनाें अाैर करीब 100-100 मीटर तक सड़क पर बेरिकेड्स लगाकर रास्ता राेक दिया। एक ही लेन से दाेनाें ओर का ट्रैफिक का दबाव आया ताे यहां करीब एक किलाे मीटर लंबा जाम लग गया।

 

ये है आशंका इसलिए झुकी बिल्डिंग : जिस प्लाॅट पर बिल्डिंग बनाई जा रही है उसमें लंबे समय से सर्विस सेंटर है। ऐसे में नीचे पानी का टैंक बना है। पुरानी बिल्डिंग काे ताेड़े बिना गड्ढे खाेदकर पिलर डाले और उस पर बिल्डिंग खड़ी की गई है। माैके पर माैजूद लाेगाें ने आशंका जताई हैं कि पानी के टैंक के कारण जमीन में नमी है इस कारण बिल्डिंग नीचे धंस गई। 

 

मकान मालिेक को पता नहीं क्यों झुकी बिल्डिंग : प्रत्यक्षदर्शी मुकेश पंथी ने बताया कि शाम करीब छह बजे लाेगाें ने शाेर मचाया कि बिल्डिंग झुक रही है। जाकर देखा ताे हॉस्पिटल की दीवार से बिल्डिंग की छत काफी दूर नजर आई। बिल्डिंग मालिक माेहम्मद इम्तियाज ने बताया कि 2016 की बिल्डिंग परमिशन है। करीब चार महीने से काम चल रहा है। कुछ दिन पहले ही चाैथी मंजिल की छत डाली है। पता नहीं बिल्डिंग झुक क्याें गई।

 

बिल्डिंग झुक गई है ऐसे में ताेड़ना जरूरी है। पास का मकान और अस्पताल खाली करा लिया है। इसे ताेड़ने में रातभर का समय लग जाएगा। सावधानी के लिए लिहाज से बिजली लाइन भी बंद करा दी है।

कमर साकिब, अतिक्रमण अधिकारी, नगर निगम
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना