मध्यप्रदेश / चौथे दिन भी चकमा देकर भाग निकला जाल में फंसा घड़ियाल



fourth day was not even caught  Gharial
X
fourth day was not even caught  Gharial

  • हाथ लगीं सिर्फ मछलियां, अब होशंगाबाद से आएगा महाजाल

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2019, 01:10 AM IST

भोपाल . कलियासोत डैम में चौथे दिन भी घड़ियाल हाथ नहीं लगा। वन विभाग और मत्स्य विभाग की समितियों के मछुआरे लगातार उसे पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन उनके हाथ सिर्फ मछलियां ही लग रही हैं। भोपाल वन मंडल उड़न दस्ता के रेंजर विभाष बिल्लोरे ने बताया कि मत्स्य विभाग से शुक्रवार को बड़ा जाल मंगाया था।

 

मछुआरों ने सुबह घड़ियाल को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। जिस घड़ियाल के मुंह में जाल फंसा हुआ है वह बिछाए गए जाल में फंसी मछलियों को खाने आया। जैसे ही मछुआरे जाल समेटने के लिए आगे बढ़े वह चकमा देकर पानी में गुम हो गया। जाल में करीब एक क्विंटल मछलियां फंस गईं। अब वन विभाग होशंगाबाद से महाजाल मंगवा रहा है। यह 50 मीटर के रेडियस में होगा।

 

शिवपुरी से आ रही है टीम : एपीसीसीएफ आलोक कुमार का कहना है कि घड़ियाल को पकड़ने के लिए शिवपुरी से रेस्क्यू टीम बुलाई जा रही है। हमारा उद्देश्य है कि घड़ियाल को कोई नुकसान न पहुंचे। उसके ऊपरी जबड़े में जाल फंसा है। इससे वह कम से कम मछलियां खा पा रहा है। गौरतलब है कि 2015 में भी घड़ियाल के मुंह में जाल फंसा गया था। इससे उसकी मौत हो गई थी। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना