--Advertisement--

सिविल सर्विसेज क्लब में विश्व धर्म पर ग्रुप डिस्कशन

दुनिया के पहले सबसे बड़े साम्राज्य \"पारसी साम्राज्य\' के आधिकारिक धर्म \"पारसी धर्म\' को मानने वालों की कुल संख्या अब...

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 02:11 AM IST
दुनिया के पहले सबसे बड़े साम्राज्य "पारसी साम्राज्य' के आधिकारिक धर्म "पारसी धर्म' को मानने वालों की कुल संख्या अब डेढ़ लाख से भी कम है। और इनकी सबसे बड़ी आबादी भारत में ही रहती है। सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक ने 26 साल तक दुनिया के सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों की यात्रा की थी। इन 26 वर्षों के शोध के बाद उन्होंने सिख धर्म की स्थापना की थी। जैन धर्म की "संथारा प्रथा' कोई आत्महत्या नहीं बल्कि सम्मानजनक तरीके से दुनिया से विदा होने का तरीका है। धर्मों से जुड़े ऐसे ही इंट्रेस्टिंग फैक्ट्स पर शहर के सिविल सविसेज क्लब के स्टूडेंट्स ने बातचीत की। मौका था, क्लब में विश्व धर्म संसद के तहत ग्रुप डिस्कशन का। शिकागो धर्म सम्मेलन के 125 साल पूरे होने पर आयोजित ग्रुप डिस्कशन में बताया गया कि इस्लाम में जिहाद का अर्थ होता है "कमजोरों की रक्षा करना है' ना कि उनकी हत्या करना। वहीं, हिन्दू धर्म दुनिया का पहला धर्म है जिसने धर्म के विकेन्द्रीकरण पर ध्यान दिया।