विवाद / डाॅक्टर की गुहार- पत्नी से बचाओ, तनाव के कारण ऑपरेशन तक नहीं कर पा रहा



प्रतीकात्मक प्रतीकात्मक
X
प्रतीकात्मकप्रतीकात्मक

  • पार्टी में एक महिला साथी के साथ उनको फोटो खिंचवाना महंगा पड़ गया

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 06:43 AM IST

भोपाल. अभी तक महिलाएं जिला विधिक प्राधिकरण में शिकायत करती थीं कि पति प्रताड़ित कर रहे हैं। लेकिन यहां ग्वालियर संभाग के एक सिविल सर्जन ने गुहार लगाई है कि उनकी पत्नी उन्हें प्रताड़ित कर रही है। उसने उन्हें घर से निकाल दिया है। वे इतने तनाव में हैं कि मरीजों के ऑपरेशन तक नहीं कर पा रहे हैं। जहां वे पदस्थ हैं, वहां भी वह काम नहीं करने देती। आए दिन हंगामा करती है।

 

प्राधिकरण में सिविल सर्जन पति ने बताया कि उनकी शादी को 12 साल हो गए हैं। आठ साल का एक बेटा है। एक पार्टी में एक महिला साथी के साथ उनको फोटो खिंचवाना महंगा पड़ गया। पत्नी को शक है कि उसी महिला से उनका अफेयर चल रहा है। उन्होंने पत्नी को समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन वह कोई बात सुनने को तैयार नहीं है।

 

उन्होंने बताया कि उल्टे उसने उनके खिलाफ ग्वालियर में घरेलू हिंसा, दहेज प्रताड़ना और भोपाल में भरण-पोषण और तलाक का प्रकरण लगा दिया है। अब वे नौकरी से छुट्टी लेकर केसों की पेशियों को ही अटैंड कर रहे है। वे पत्नी को तलाक नहीं देना चाहते हैं। प्राधिकरण के सचिव आशुतोष मिश्रा ने बताया कि उन्होंने दोनों के बीच मीडिएशन और काउंसलिंग कर परिवार बचाने के लिए आवेदन दिया है।

 

शक दूर करने बुलाया महिला मित्र काे 
मिश्रा ने बताया कि बच्चे के भविष्य काे देखते हुए पत्नी अाैर डाॅक्टर की महिला साथी काे भी बुलाया है, ताकि शक काे दूर किया जा सके। डाक्टर की महिला साथी काे दाेनाें के बीच की दरार काे दूर करने के लिए तैयार किया है। महिला साथी इस शर्त पर अाने तैयार हुई है उससे साथ किसी भी तरह का अभद्र व्यवहार डाॅक्टर की पत्नी द्वारा नहीं किया जाएगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना