मप्र / नमी कम, चली उत्तरी हवा अब तेज ठंड का दौर

Humidity reduced, the northern air is now cold
X
Humidity reduced, the northern air is now cold

  • सुबह और शाम के वक्त नमी 20% कम थी, हवा की रफ्तार भी 12 किमी/घंटा थी

दैनिक भास्कर

Dec 05, 2019, 03:12 AM IST

भाेपाल | शहरवासियाें काे जिस ठंड का इंतजार था, वैसी ठंड अब पड़ने लगी है। पिछले दाे दिन से शाम से लेकर रात अाैर सुबह तक माैसम सर्द हाे रहा है। माैसम वैज्ञानिक कहते हैं तब तक नमी कम नहीं हाेती अाैर उत्तर से सर्द हवा नहीं अाती तब तक हमारे यहां ठंड नहीं पड़ती। अब दाेनाें फैक्टर असर दिखाने लगे हैं। सुबह व शाम के वक्त नमी 20% कम हाे गई है। उत्तर से ठंडी हवा भी अा रही है।

ऐसे पड़ती है हमारे यहां ठंड 
वरिष्ठ माैसम वैज्ञानिक एके शुक्ला कहते हैं कि देश के पश्चिमी हिस्से यानी अफगानिस्तान- पाकिस्तान से हवा का चक्रवाती घेरा या कम दबाव का क्षेत्र जम्मू कश्मीर हाेता हुअा भारत पहुंचता है। इसे ही वेस्टर्न डिस्टरबेंस कहते हैं। इसके कारण ही उत्तरी भारत यानी जम्मू- कश्मीर, उत्तराखंड इलाकाें में बर्फबारी या बारिश हाेती है। इसके बाद वहां से ठंडी हवा हमारे यहां आती है।

असर यह भी

सीजन में पहली बार रात से सुबह तक 12 घंटे रहे ठंडे 
सीजन में पहली बार मंगलवार रात 8.30 से बुधवार सुबह 8.30 बजे तक 12 घंटे माैसम ठंडा रहा। इन 12 घंटे में पारा 16 से 18 डिग्री के बीच बना रहा। रात 8.30 बजे यह 18.2 डिग्री पर था, जाे सुबह 8.30 बजे 16.6 डिग्री तक पहुंचा।  

ठंड के लिए नमी कम 
हाेना इसलिए जरूरी है

  •  जब तक नमी रहेगी ताे वह दिन के तापमान काे बढ़ने नहीं देती अाैर रात के तापमान काे कम नहीं हाेने देती।
  •  नमी रहेगी ताे गुप्त ऊष्मा यानी लेटेंट हीट दिन के वक्त ताे यह रिलीज करेगी , लेकिन सूरज ढलने के बाद यह प्रक्रिया रुक जाती है। 
  •  दाे दिन पहले तक सुबह के वक्त नमी 80 फीसदी थी जाे अब 60 हाे गई। शाम के समय यह 60 फीसदी थी जाे अब 48 प्रतिशत हाे गई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना