आईटीएमएस  / सिग्नल खराब हुए तो जिम्मेदारों तक 30 सेकंड में पहुंचेगा मैसेज अब आईटीएमएस को सिग्नलों से जोड़ा जाएगा



itms bhopal
X
itms bhopal

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 10:54 AM IST

भोपाल। अभी शहर में 62 जगहों पर ऑटोमैटिक ट्रैफिक सिग्नल लगे हुए हैं। अब ये सिग्नल आईटीएमएस से जुड़ेंगे। इसका फायदा यह होगा कि जैसे ही किसी तिराहे-चौराहे पर सिग्नल खराब होगा तो सिर्फ 30 सेकंड के भीतर इसकी सूचना ट्रैफिक पुलिस और संबंधित मेंटेनेंस कंपनी को लग जाएगी। इसे जल्द दुरुस्त भी किया जा सकेगा। गौरतलब है कि शहर में 4 कंपनियां सिग्नल के मेंटेनेंस का काम देखती हैं। शहर में बेहतर ट्रैफिक व्यवस्था को बनाए रखने के लिए अभी 18 तिराहे-चौराहे पर सिग्नल की जरूरत है। 


ट्रैफिक को सुचारू रूप से चलाए रखने और एक्सीडेंट की संभावना को कम से कम करने के लिए सिग्नल लगाए जाते हैं। कभी लाइन कटने तो कभी किसी निर्माण कार्य के चलते भोपाल में अधिकांश ट्रैफिक सिग्नल बंद ही रहते हैं। उनके खराब हाेने की सूचना पुलिस को लोगों के शिकायत करने या फिर ट्रैफिक पुलिस के वहां से निकलने पर चलती है। इसी को ध्यान में रखते हुए अब ट्रैफिक सिग्नल को आईटीएमएस से जोड़ा जा रहा है। 


ये होती थीं समस्याएं 
सिग्नल को दुरुस्त करने का काम कर रही चारों कंपनियों का कोई कंट्रोल रूम नहीं है। इससे सिग्नल को कंट्रोल करने और ठीक कराने में पुलिस को परेशान होना पड़ता है। कंपनियों के इंजीनियरों के मोबाइल बंद रहते हैं। कंपनी क्या कार्य करेगी, इसका एमओयू उपलब्ध नहीं है । लगभग सभी सिग्नल सिस्टम पुराने हो गए हैं। 


यह होना जरूरी है 
सिग्नल का रखरखाव करने वाली कंपनी का कम से कम एक कर्मचारी 12 घंटे ट्रैफिक थाने में रहे। कई स्थानों के सिग्नल को सिंक्रोनाइज्ड किया जाना आवश्यक है। चौराहे/तिराहे पर सेंसर युक्त सिग्नल का अपग्रेड वर्जन लगाया जाना जरूरी है, जिससे ट्रैफिक वाल्यूम के अनुसार आटोमैटिक सिग्नल संचालित हो सकें।

 
यहां सिग्नल की जरूरत 
माता मंदिर चौराहा, मंदाकनी चौराहा, सर्वधर्म काॅलोनी चौराहा, भदभदा चौराहा, यूनियन कार्बाइड, नया ब्रिज तिराहा, बेस्ट प्राइज चौराहा (कोलार), सूरज नगर तिराहा, अंकुर स्कूल तिराहा, मीनाल रेसीडेंसी चौराहा, आनंदनगर चौकी तिराहा, मैनिट चौराहा, गांधी नगर तिराहा, बिट्टन मार्केट चौराहा, साढ़े 6 नंबर चौराहा आदि। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना