लोकसभा चुनाव / कमलनाथ ने कहा- भाजपा का संकल्प-पत्र जुमला, चौहान- नए भारत के निर्माण की दिशा में कदम



मुख्यमंत्री कमलनाथ मुख्यमंत्री कमलनाथ
X
मुख्यमंत्री कमलनाथमुख्यमंत्री कमलनाथ

  • भाजपा की ओर से जारी घोषणा-पत्र को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जहां एक ओर जुमला पत्र बताया
  • पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे बढ़ते भारत को और सशक्त बनाने का भाजपा का प्रयास निरूपित किया

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2019, 06:20 AM IST

भोपाल. लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा की ओर से जारी घोषणा-पत्र को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जहां एक ओर जुमला पत्र बताया है। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे बढ़ते भारत को और सशक्त बनाने का भाजपा का प्रयास निरूपित किया है। 

 

कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा है कि भाजपा का आज जारी संकल्प पत्र सिर्फ़ जुमला पत्र है। साल 2014 के घोषणा पत्र की पुरानी बातों को दोबारा शामिल कर जनता को गुमराह करने का प्रयास किया गया है। चाहे राम मंदिर हो, धारा 370 हो, 35 ए की बात हो, ये सब पुराने वादे हैं। नाथ ने दूसरे ट्वीट में कहा है कि पांच वर्ष बाद भी किसानों की आय दोगुनी करने के सपने दिखाए गए हैं। किसानों के उत्थान व उन्हें कर्जमुक्त बनाने युवाओं के रोजगार, जीसटी से राहत, गरीबों, महिलाओं के उत्थान पर कुछ ठोस नहीं सिर्फ दिखावटी वादे हैं। 

 

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भाजपा के संकल्प-पत्र में विकास, मानव कल्याण और सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण की प्रतिबद्धता स्पष्ट दिखाई देती है। भाजपा नए भारत के निर्माण की दिशा में काम कर रही है। भाजपा आलाकमान ने आज अपना घोषणा-पत्र जारी किया है, जिसे संकल्प पत्र नाम दिया गया है। 

 

विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि पहली बार किसी दल ने जनमत संग्रह कर अपना संकल्प-पत्र तैयार किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के संकल्प पत्र में किसानों से लेकर जवानों तक के लिए प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने दावा किया कि भाजपा का घोषणा पत्र संपूर्ण है और इसके आधार पर पार्टी 350 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी। वहीं, सपाक्स पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजीव खंडेलवाल ने भाजपा के संकल्प पत्र को लोकलुभावन शंका पत्र कहा है। 


 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना