• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Killed on a money dispute, the corpse was torn to pieces in different places; Court sentenced to life imprisonment

भोपाल / पैसे के विवाद पर हत्या कर लाश के टुकड़े-टुकड़े कर अलग-अलग जगह फेंका था; कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई

Killed on a money dispute, the corpse was torn to pieces in different places; Court sentenced to life imprisonment
X
Killed on a money dispute, the corpse was torn to pieces in different places; Court sentenced to life imprisonment

  • मुख्य आरोपी मोहम्मद नवेद को कोर्ट ने एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 06:35 PM IST

भोपाल. राजधानी की एक अदालत ने पैसे के विवाद पर हत्या कर मृतक के शरीर को क्षत-विक्षत करने वाले आरोपी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेन्द्र कुमार वर्मा की अदालत ने आरोपी मोहम्मद नवेद पर एक लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया। जुर्माना अदा नहीं करने पर आरोपी को 6 माह का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। 

अभियोजन के अनुसार 16 अगस्त 2017 को आरोपी ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर खुद ऐशबाग पुलिस थाने पहुंचकर हत्या की सूचना दी थी। नवेद ने अपने घर में ही अजीम की गला रेतकर हत्या कर दी थी और बाद में लाश के अगल-अलग हिस्सों को अन्य स्थानों पर फेंक दिया था। 

दरअसल, मृतक अजीम का अपने बहनोई के साथ पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था। दोनों के बीच नवेद ने मध्यस्थता कराई थी। अजीम को बहनोई को 6 लाख रुपए देने थे। उसने 3 लाख तो लौटा दिए लेकिन शेष रकम लौटाने में आनाकानी कर रहा था। घटना के दिन नवेद ने अजीम को अपने घर बुलाया और उसे सोफे से बांध कर रस्सी से उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उसने मृतक के सिर को धड़ से अगल कर दिया और दोनों पैर भी काट दिए।

नवेद ने अजीम का सिर मोतिया तालाब और धड़ को पाथरापुर में फेंक दिया। आरोपी के बताए अनुसार जब घर की तलाशी ली गई तो पुलिस को मृतक के दोनों कटे हुए पैर पन्नी में बंधे हुए मिले। साथ ही पुलिस ने आरोपी के घर से उस धारदार हथियार को भी बरामद किया जिससे उसने लाश के टुकड़े किए थे। 


पुलिस ने घटनास्थल का वीडियो भी बनाया था। मामले में 28 लोगों की गवाही हुईं जिनमें से अधिकतर पक्षद्रोही हो गए। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट, डॉक्टर की रिपोर्ट, वीडियो, डीएनए टेस्ट और नगर निगम सफाई कर्मी की गवाही के आधार पर कोर्ट ने नवेद को दोषी करार दिया। शासन की ओर से विशेष लोक अभियोजक टीपी गौतम और एडीपीओ विजय कोटिया ने पक्ष रखा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना