मध्यप्रदेश / समाज बदलने वाले मुद्दे होंगे, तो फिर राजनीति में उतरूंगा



Kumar Vishwas said that there will be social change, politics will do
X
Kumar Vishwas said that there will be social change, politics will do

  •  कुमार विश्वास ने कहा- मैं जिन मुद्दों के लिए राजनीति में आया, वह राजनीति अब बची नहीं है

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2018, 06:45 AM IST

भोपाल. कुमार विश्वास ने सिटी भास्कर से बातचीत में बताया- मैं जिन मुद्दों के लिए राजनीति में आया, वह राजनीति अब बची नहीं है। वहां सब निज स्वार्थ साध रहे हैं। कभी कांग्रेस तो कभी भाजपा, अपनी बात कहने या प्रमोशन में मेरी कविताएं टैग करते हैं, जबकि मैं किसी दूसरी पार्टी से जुड़ा हूं।

 

विश्वास ने कहा- राहुल मोदी से गले मिले, तो पूरे देश में कांग्रेस ने टैग किया- हमने दुनिया में मुहब्बत का असर जिंदा किया है, हमने दुश्मन को गले मिल-मिल के शर्मिंदा किया है। ऐसे में क्या फर्क पड़ता है कि मैं अब राजनीति में किसी पार्टी में हूं या नहीं। जब समाज को बदल देने वाले मुद्दे मुझे फिर नजर आएंगे, तो फिर राजनीति में उतर जाऊंगा, तब तक तो नहीं। 
 

दो धारी तलवार है सोशल मीडिया

सोशल मीडिया मेरी समझ से दो धारी तलवार है, एक ऐसा पोडियम है, जहां लोग प्राइवेसी का सम्मान करना भूल गए हैं। जिस देश के प्रधानमंत्री ही 34 साल के फेसबुक के सीईओ के सामने झुक कर हाथ जोड़कर उसे देश बुला रहे हों, उस देश के युवा सोशल मीडिया का दुरुपयोग तो करेंगे ही। आज किसी भी व्यक्ति का वीडियो इंटरनेट से उठाइए, पॉर्न वीडियो पर चिपकाइए और हो गया काम, उस व्यक्ति का पूरा करियर चौपट। एक ऐसा कानून बनाए जाने की जरूरत है, जिससे सोशल मीडिया का उपयोग एक दायरे में रहकर किया जाए। 

 

नायक की अवधारणा बदलने की जरूरत है
हमारे देश में कुछ भी घटता रहे, लेकिन हमारे देश के हीरो (बॉलीवुड के) जो वास्तव में हमारे युवाओं के आइकन हैं और युवा जिनको फॉलो करना चाहते हैं, उन्हें इन घटनाओं से कोई फर्क नहीं पड़ता। ताज्जुब होता है कि आखिर ये कैसे नायक हैं, जो देश में 2 महीने की बच्ची के साथ दुर्व्यवहार जैसी घटनाएं हो जाती हैं और वे सोशल मीडिया पर डॉगी के साथ सेल्फी शेयर कर रहे होते हैं। देश में कितने बॉलीवुड के बड़े स्टार हैं, जिनके पास भारत की नागरिकता ही नहीं है, जरा पता लगाइए, तब समझ आएगा कि देश के युवा किन्हें फॉलो कर रहे हैं। 

 

 

COMMENT