--Advertisement--

महाराष्ट्र: दूसरी बेटी का जन्म हुआ तो 20 लाख की कार से घर ले गए, शहनाई बजाकर किया स्वागत

News - औरंगाबाद | महाराष्ट्र में औरंगाबाद के भोसले परिवार में सोमवार को एक बच्ची ने जन्म लिया। बच्ची को अस्पताल से घर ले...

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2018, 12:36 PM IST
दंपती दीपक और शीतल भोसले की ये दंपती दीपक और शीतल भोसले की ये

औरंगाबाद (महाराष्ट्र)। औरंगाबाद के भोसले परिवार में सोमवार को एक बच्ची ने जन्म लिया। बच्ची को अस्पताल से घर ले जाने के लिए परिवार ने बुधवार को 20 लाख की कार खरीदी। अस्पताल के बाहर शहनाई बजाकर स्वागत किया गया। दंपती दीपक और शीतल भोसले की ये दूसरी बेटी है। मासूम के पिता ने बताया कि दूसरी बार बेटी पैदा होने पर कई परिवार नाराज होते हैं, लेकिन लड़की एक नहीं बल्कि दो परिवारों को रोशन करती है।

हरदोई (यूपी)- बेटी के पैदा होने पर फैमिली ने मनाया ऐसा जश्न, देखने वाले भी कह रहे- वाह-वाह!

- 23 मई को हरदोई में एक फैमिली ने बेटी के जन्म पर ऐसा जश्न मनाया कि लोग देखते रह गए। अस्पताल से घर लौटने पर मां और नवजात का भव्य गृह प्रवेश कराया गया। फीता काटकर मां ने बच्ची को गोद में लेकर घर में प्रवेश किया। हरदोई मुकेश वर्मा के बेटे सत्यम की 2 साल पहले कृति से शादी हुई थी। 23 मई को लखनऊ में कृति ने बेटी को जन्म दिया। 28 मई को जब वो हरदोई अपने ससुराल पहुंची, तो वहां उसका भव्य गृह प्रवेश हुआ।

- पिता सत्यम ने कहा- 'पहले के जमाने में लोग बेटी होने पर अफसोस मनाते थे, उसकी इज्जत कम करते थे। लेकिन मैं समाज को ये मैसेज देना चाहता हूं कि उसे खूब पढ़ाएं-लिखाएं। उसे आगे बढ़ने में हरसंभव उसकी मदद करें और आगे बढ़ने में उसकी मदद करें।

- बच्ची की दादी ने कहा, 'पोती के आने से बरसों पुरानी मुराद पूरी हो गई है। लंबे समय से ख्वाहिश थी कि घर में एक बेटी हो। क्योंकि मेरे 2 बेटे हैं। हालांकि, बेटी के तौर पर दो बहुएं भी मिली हैं। लोगों से मैं यही कहना चाहूंगी को बेटी को अच्छे ढंग से खुशी से अपनाएं, उसे सही शिक्षा दें ताकि समाज में उसे आगे बढ़ने में मदद मिले।'


धार (मप्र) - 60 साल बाद पैदा हुई बेटी की खुशी में 22 साल तक 22 ब्राह्मण लड़की का कन्यादान करने का फैसला...

धार के रहे वाले मनोज ने बताया- उनकी चार बहनें हैं। शकुंतला, तृष्णा, जमना और गौतमी। सबसे छोटी बहन गौतमी की उम्र वर्तमान में 60 साल है। परिवार में वे अकेले बेटे थे। विवाह के बाद उन्हें भी दो बेटे हुए। बेटी नहीं हुई। 60 साल बाद परिवार में 22 जनवरी को पुत्रवधू नेहा ने बेटी को जन्म दिया तो परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। बेटे कुणाल ने 60 साल बाद घर आई लक्ष्मी के स्वागत में शहर के हर रिश्तेदार के यहां डोल बजाकर खुशियां साझा की। चूंकि पोती के जन्म की तारीख 22 है। इसलिए 22 साल तक 22 लड़कियों का कन्यादान करने का संकल्प लिया।


X
दंपती दीपक और शीतल भोसले की ये दंपती दीपक और शीतल भोसले की ये
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..