Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» आगे से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का संचालन छात्राएं ही करें

आगे से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का संचालन छात्राएं ही करें

पढ़ाई और खेलकूद में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालीं छात्राओं को पुरस्कृत करतीं राज्यपाल। सिटी रिपोर्टर | भोपाल ...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:10 AM IST

आगे से सांस्कृतिक कार्यक्रमों का संचालन छात्राएं ही करें
पढ़ाई और खेलकूद में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालीं छात्राओं को पुरस्कृत करतीं राज्यपाल।

सिटी रिपोर्टर | भोपाल

सरोजिनी नायडू कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में सोमवार को वार्षिकोत्सव का आयोजन हुआ। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थीं। इस दौरान राज्यपाल ने शिक्षकों से कहा है कि छात्राओं की रुचि के विषयों पर अधिक ध्यान दें और उन्हें प्रोत्साहित करें। यह जानकर प्रसन्नता होती है कि गरीबों की बच्चियां भी प्रतियोगिता परीक्षा में उच्च स्थान प्राप्त कर रही है। कन्या शिक्षा का समाज और देश के विकास को नई दिशा देने में महत्वपूर्ण योगदान है। छात्राओं की प्रतिभा को उभारने के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जाना चाहिए। बेटियों को बचाना ही काफी नहीं है, उनके स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना जरूरी है। इसके लिए विद्यालयों में स्वास्थ्य शिविर लगाकर संपूर्ण जांच कराई जाए। समारोह में उत्कृष्ट छात्राओं को पुरस्कृत किया गया।

ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण कराया जाए

राज्यपाल ने कहा कि छात्राओं को प्रदेश के पयर्टन एवं ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण कराया जाए। विद्यालयों में होने वाले कार्यक्रमों का संचालन छात्राओं से ही कराया जाए, इससे उनका मनोबल बढ़ेगा और वे कुछ नया सीख सकेंगी। स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने कहा कि छात्राएं देश का भविष्य हैं। देश और प्रदेश का विकास और सामाजिक उन्नति उनके कंधे पर है। इनमें से कोई डॉक्टर, इंजीनियर बनकर देश की सेवा करेगी। उन्होंने कहा कि आगे से अतिथियों का स्वागत पुस्तकें भेंट कर किया जाएगा। कक्षा में उपस्थिति के समय बच्चे जय-हिंद बोलें, इससे उनमें राष्ट्रभक्ति की भावना जागृत होगी। स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने कहा कि अब 70 प्रतिशत अंक लाने वाली छात्राओं को भी लेपटॉप दिया जाएगा।

समारोह में सांस्कृतिक प्रस्तुति देती छात्रा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×