--Advertisement--

बिशनखेड़ी | बुधवार को भाऊखेड़ी गांव में सजगता जागृति कार्यक्रम

बिशनखेड़ी | बुधवार को भाऊखेड़ी गांव में सजगता जागृति कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयोजन मलेरिया इंस्पेक्टर सुनील...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:35 AM IST
बिशनखेड़ी | बुधवार को भाऊखेड़ी गांव में सजगता जागृति कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयोजन मलेरिया इंस्पेक्टर सुनील भालवा एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र इछावर बीएमओ बीबी शर्मा के मार्गदर्शन में किया गया। कार्यक्रम में ग्रामीणों को डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया आदि बीमारियों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि ये बीमारियां मच्छर के काटने से होती है। डेंगू में व्यक्ति को 2 से 7 दिन तक बुखार व अकड़न होती है। उन्होंने बताया कि मरीज की स्थिति गंभीर होने पर प्लेट लेट्स की संख्या तेजी से कम होते हुए नाक, कान, मुंह से खून आने लगता है। इतना ही नहीं बल्कि ब्लड प्रेशर काफी कम हो जाता है। यदि समय पर उचित चिकित्सा न मिले तो रोगी कोमा में भी चला जाता है जिससे जान जाने का खतरा बना रहता है।