पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

46 डिग्री पर पहुंचा पारा, 12 जिलों में मौसम विभाग ने जारी किया लू का अलर्ट

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल। समूचा प्रदेश भीषण गर्मी की चपेट में है। मंगलवार को भी प्रदेश के कई जिलों में आग बरसी और पारा 46 डिग्री को छू गया। कई जगह हल्की बूंदा-बांदी भी हुई है। मौसम विभाग ने बुधवार को 12 जिलों में लू चलने का अलर्ट जारी किया है। 

 

 

46 डिग्री पर पहुंचा तापमान

 

- मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को शाजापुर, राजगढ़ उमरिया और नौगांव का तापमान 46 डिग्री पर पहुंच गया। यहां दिन भर लू जैसे हालात रहे।

 

ऐसा रहा मंगलवार को शहरों का पारा

 

- भोपाल- 43.7, होशंगाबाद- 44.0, बैतुल- 42.4, पचमढ़ी- 38.5, जबलपुर- 43.0, रीवा- 44.6, सतना- 44.5, इंदौर- 43.0,  खंडबा- 44.5, सागर- 43.3, खजुराहो- 45.5, रायसेन- 44.2, नौगांव- 46.0,  दमोह- 45.5, ग्वालियर- 45.5, गुना- 45.0, उज्जैन- 43.8, राजगढ़- 46.0, शाजापुर- 46.0, रतलाम- 44.0, उमरिया 45.6 रहा। 

 

बुधवार को यहां लू की संभावना


 - मौसम विभाग के अनुसार छतरपुर, दमोह, होशमंगाबाद, राजगढ, रायसेन, खरगौन, खंडवा, शाजापुर, ग्वालियर, सागर, उमरिया और श्योपुर में लू चलने की संभावना है।

 

रात की गर्मी भी कर रही बेहाल 
 
सोमवार की रात राजधानी के लोगों की बैचेनी से गुजरी। रात का पारा 32.7 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, वहीं दमोह में  में ये 31.5 डिग्री पर पहुंच गया। भोपाल में पिछले 16 साल में ऐसा पांचवीं बार हुआ है जब मई में रात इतनी तपी है। इससे पहले 17 मई 2002 को रात का तापमान 32.9 डिग्री दर्ज किया गया था। जोकि 1980 से लेकर अब तक 38 साल में मई में रात का सबसे ज्यादा तापमान है। श्योपुर, टीकमगढ़ और रपाजगढ़ में भी रात का तापमान सामान्य से कही ज्यादा चल रहा है। 


ये है वजह

 

- एक्सपर्ट कहते हैं कि इसकी खास वजह लांग वेव रेडिएशन तेजी से नहीं हो पा रहा है। इसका मतलब यह है कि सूरज की किरणों से दिन में तपने वाली धरती रात में ठंडी नहीं हो पा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

और पढ़ें