मप्र / .... डाले जाएंगे वोट, आचार संहिता लागू



Lok Sabha Elections 2019 Dates-Schedule Live Updates
X
Lok Sabha Elections 2019 Dates-Schedule Live Updates

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2019, 05:21 PM IST

भोपाल। चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है। मध्य प्रदेश में 29 अप्रैल से 19 मई के बीच चार चरण में 29 लोकसभा सीटों के लिए मतदान होगा। 23 मई को मतगणना होगी। चुनाव की घोषणा होने के साथ ही आर्दश आचार संहिता लागू हो गई है। 29 अप्रैल को छिंदवाड़ा विधानसभा क्षेत्र के लिए भी मतदान होगा।

 

कब कितनी सीटों पर होगा मतदान

 

29 अप्रैल

  • सीधी, शहडोल, मंडला, बालाघाट, जबलपुर, छिंदवाड़ा

6 मई

  • बैतूल, दमोह, खजुराहो, रीवा, सतना, होशंगाबाद, टीकमगढ़

12 मई

  • मुरैना, भिंड, ग्वालियर, गुना, सागर, विदिशा, भोपाल,राजगढ़

19 मई

  • देवास, उज्जैन, धार, खंडवा, इंदौर, मंदसौर, रतलाम, खरगोन

 

कुल मतदाता

 

  • 2,67,78,268 पुरुष
  • 2,46,22,329 महिला
  • 1423 ट्रांसजेडर
  • कुल मतदाता 5,14,02,020

 

 

मतदाता सूचि का होगा प्रकाशन: प्रदेश मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि मतदान केंद्रों पर ईवीएम के साथ वीवीपैट का उपयोग किया जाएगा। 1 जनवरी 2019 की स्थिति में 18 वर्ष के युवाओं को मतदाता सूची में शामिल किया गया है। एक बार फिर से मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। 


जीपीएस लगेगा: कांताराव ने बताया कि जिन वाहनों से ईवीएम का परिवहन होगा उन सभी को जीपीएस के माध्यम से ट्रेक किया जाएगा। सभी वाहनों में जीपीएस ट्रेकर लगा रहेगा। रिजर्व मशीनों के परिवहन के दौरान भी यह व्यवस्था लागू रहेगी।

 

चार्टड विमानों का ट्रेवल प्लान देगा : प्रत्याशियों के खर्चों पर नजर रखने के लिए कमर्शियल एयरपोर्ट का एयर ट्रैफिक कंट्रोल चार्टड विमानों या हैलिकॉप्टरों के ट्रेवल प्लान के बारे में मुख्य निवार्चन पदाधिकारी कार्यालय और उस जिले के जिला निर्वाचन अधिकारी को सूचित करेगा जिसमें एयरपोर्ट स्थित है। यात्रियों के हैंड बैग सहित सभी सामान की जांच की जाएगी। विमानों के सामान से 10 लाख रुपए से अधिक की नगदी या एक किलो से अधिक सोना-चांदी का पता लगने पर सीआईएसएफ या क्षेत्र के पुलिस अधिकारी आयकर विभाग को सूचित करेंगे।

 

जिला और राज्य स्तरीय नंबर:  निर्वाचन आयोग ने प्रदेश के सभी 52 जिलों में जिला स्तरीय कांटेक्ट नंबर 1950 शुरू किया है। इसमें जिले से बाहर से कॉल करने पर एसटीडी कोड का उपयोग करना होगा। इसके अलावा राज्य स्तरीय नंबर 1800 2330 1950 शुरू किया है। इसमें समस्या, शिकायत व सुझाव दिए जा सकेंगे। 
 
पांच लाख कर्मचारी: निर्वाचन कार्य में प्रदेश के पांच लाख कर्मचारी तैनात रहेंगे। सुरक्षा व्यवस्था संभालने के लिए पैरा मिलिट्री फोर्सेस का भी उपयोग किया जाएगा।

 

आचार संहिता लागू, अब क्या नहीं हो सकेगा

  • सरकारें किसी भी तरह की घोषणा नहीं कर सकतीं। इनका उल्लंघन करने पर सख्त सजा हो सकती है। चुनाव लड़ने पर रोक लग सकती है। चुनाव के दौरान कोई भी मंत्री सरकारी दौरे को चुनाव के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकता।
  • सरकारी संसाधनों का किसी भी तरह चुनाव के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। यहां तक कि कोई भी सत्ताधारी नेता सरकारी वाहनों और भवनों का चुनाव के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकता।
  • केंद्र सरकार हो या किसी भी प्रदेश की सरकार, न तो कोई घोषणा कर सकती है, न शिलान्यास, न लोकार्पण और ना ही भूमिपूजन। 
  • कोई भी पार्टी या उम्मीदवार ऐसा काम नहीं कर सकती, जिससे जातियों और धार्मिक या भाषाई समुदायों के बीच मतभेद बढ़े या घृणा फैले।
  • किसी की अनुमति के बिना उसकी दीवार या भूमि का उपयोग नहीं किया जा सकता। मतदान के दिन मतदान केंद्र से सौ मीटर के दायरे में चुनाव प्रचार पर रोक और मतदान से एक दिन पहले किसी भी बैठक पर रोक।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना