मध्य प्रदेश / चुनाव में सुरक्षा के लिए 150 कंपनियों की मांग, अब कम की पड़ेगी जरूरत

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 10:42 AM IST


loksabha chunav 2019
X
loksabha chunav 2019
  • comment

भोपाल। प्रदेश में लाेकसभा चुनाव संपन्न करवाने के लिए निर्वाचन आयोग ने 150 कंपनियों की जरूरत बताई थी। लेकिन, चार चरणों में चुनाव होने की वजह से अब कम कंपनियों में ही काम हो जाएगा। आयोग के अधिकारियों का अनुमान था कि यहां तीन चरणों में मतदान होगा। लेकिन इसे बढ़ाकर चार कर दिया गया। 


आयोग के अधिकारियों के मुताबिक आचार संहिता लगने के पहले प्रदेश में तीन चरणों में चुनाव की उम्मीद थी। इस कारण 150 पैरामिलिट्री कंपनियों की मांग की गई थी। लेकिन, चार चरण होने के बाद मतदान क्षेत्रों का दायरा कम हो गया। एेसी दशा में अब 120 कंपनियों का मतदान में उपयोग किया जाएगा। इस संबंध में मांग भी भेज दी गई है। 


एक कंपनी में होते हैं 80-100 जवान  निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि एक कंपनी में लगभग 80 से 100 जवान होते हैं। ऐसे में अगर 120 कंपनियां सुरक्षा में तैनात रहेंगी तो करीब 12 हजार पैरामिलिट्री जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे। चार चरण में चुनाव से लाेकसभा क्षेत्र तीन चरण के मुकाबले कम हाे गए हैं। एेसी दशा में कम कंपनियाें से ही चुनाव संपन्न हो सकेंगे। 


10 जिले संवेदनशील : प्रदेश के दस जिलाें काे निर्वाचन आयोग ने संवेदनशील श्रेणी में रखा है। ये ऐसे जिले हैं जो अन्य प्रदेशाें की सीमा से लगे हैं या नक्सल प्रभावित क्षेत्र रहे हैं। इनमें सतना, पन्ना, बालाघाट, भिंड, मुरैना सहित अन्य जिले शामिल हैं। 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन