मौसम / मानसून की विदाई शुरू, 15 के पहले भाेपाल से रवाना हाे जाएगा



Monsoon farewell commences, will leave at first before 15 pm
X
Monsoon farewell commences, will leave at first before 15 pm

  •  इससे पहले मानसून की 1961 यानी 58 साल पहले एक अक्टूबर को विदाई शुरू हुई थी

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2019, 05:23 AM IST

भाेपाल/नई दिल्ली | देश में इस साल सामान्य से ज्यादा बारिश दर्ज कराने के बाद बुधवार से मानसून की विदाई शुरू हो गई है। इस बीच, मानसून ने सबसे ज्यादा समय तक ठहरने का नया रिकॉर्ड बनाया है। मौसम विभाग ने बुधवार काे बताया कि राजस्थान, पंजाब और हरियाणा में आर्द्रता में कमी आई है और वहां प्रति चक्रवात बनने से हवा का रुख बदला है, जो दक्षिण-पश्चिमी मानसून की वापसी के संकेत दे रहा है।  आमतौर पर ऐसी स्थितियां एक सितंबर से बनने लगती हैं। यानी इस बार यह देरी से वापसी कर रहा है। 15 अक्टूबर से पहले भाेपाल समेत मप्र के ज्यादातर हिस्से से यह विदा हाे जाएगा। 


 दाे दिन में यह राजस्थान से पूरी तरह विदा हाे जाएगा :  माैसम केंद्र के डिप्टी डायरेक्टर वेद प्रकाश का कहना है कि 12-13 अक्टूबर से यह ग्वालियर, चंबल अाैर उज्जैन संभागाें से इसकी रवानगी शुरू हाे जाएगा। इस बार मप्र में मानसून से 24 जून काे दस्तक दी थी। मप्र में इस बार सामान्य से 43 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। 
 
58 साल पुराना रिकाॅर्ड टूटा : इससे पहले मानसून की 1961 यानी 58 साल पहले एक अक्टूबर को विदाई शुरू हुई थी। 2007 में भी यह 30 सितंबर को विदा हुआ था। बता दें कि मानसूनी सीजन जून से शुरू होकर 30 सितंबर तक चलता है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना