विदिशा / विदिशा के पमारिया गांव में 100 से ज्यादा लोग फंसे, एसडीआरएफ की टीम ने निकाला



पमारिया गांव में फंसे लोगों को निकालते एसडीआरएफ सदस्य। पमारिया गांव में फंसे लोगों को निकालते एसडीआरएफ सदस्य।
X
पमारिया गांव में फंसे लोगों को निकालते एसडीआरएफ सदस्य।पमारिया गांव में फंसे लोगों को निकालते एसडीआरएफ सदस्य।

  • गंजबासौदा, सिरोंज, कुरवाई, लटेरी, शमशाबाद, नटेरन, त्योंदा आदि क्षेत्रों से पूरी तरह सड़क संपर्क टूटा हुआ है
  • सिरोंज में कैथन नदी के पानी की वजह से चार लोग फंसे हुए हैं

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 06:27 AM IST

विदिशा. भारी बारिश की वजह से विदिशा का भोपाल और सागर को छोड़कर बाकी सभी जगह से सड़क संपर्क टूट गया है। गंजबासौदा, सिरोंज, कुरवाई, लटेरी, शमशाबाद, नटेरन, त्योंदा आदि क्षेत्रों से पूरी तरह सड़क संपर्क टूटा हुआ है। विदिशा-अशोकनगर रोड पर करारिया गांव के पास सहोदरा नदी के उफान की वजह से यह संपर्क टूटा है। वहीं बेतवा, बैस, बाह्य, सगड़, नेमन नदियां उफान पर होने से 2 दर्जन गांवों में पानी भर गया है। नटेरन के पमारिया गांव में अचानक कपूरना नदी उफान पर आने से पास बनी बस्ती में 100 से ज्यादा लोग फंस गए थे। इन्हें गुरुवार को एसडीआरएफ टीम ने बोट के जरिए बाहर निकाला। सिरोंज में कैथन नदी के पानी की वजह से चार लोग फंसे हुए हैं। रात में उन्हें बचाने के लिए अभियान चलता रहा। गंजबासौदा शहर आधा पानी में डूबा हुआ है। जिले में भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी के कारण 14 सितंबर तक रेड अलर्ट घोषित किया गया है। शुक्रवार को जिले के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित किया गया है।

 

रायसेन : भोपाल-सागर मार्ग बंद
रायसेन का सांची, दीवानगंज, सलामतपुर और विदिशा से 14 दिनों से सड़क संपर्क टूटा हुआ है। कहूला पुल पर पानी आने से भोपाल- सागर मार्ग भी सुबह से बंद है।

 

सागर: 24 घंटे में 3 इंच बारिश 
बीते 24 घंटे में सागर में 3 इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई। शहर के निचले इलाकों में पानी भर गया। बंडा में बेबस नदी में टापू में फंसे दो लोगों को बचाव दल ने सुरक्षित निकाल लिया।

 

खंडवा : मोरटक्का पुल बंद
मोरटक्का पुल पर पांचवें दिन भी आवागमन बंद होने से इंदौर से खंडवा जाने वाले परेशान रहे। नर्मदा खतरे के निशान से 2 मी. ऊपर बह रही है। गुरुवार को जलस्तर 166.100 मीटर दर्ज हुआ। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना