--Advertisement--

मध्य प्रदेश / सलकनपुर और दमोह में डूबने से छह लड़कियों समेत एक लड़के की मौत



mp 7 child death due to drown narmada river and lake
X
mp 7 child death due to drown narmada river and lake

  • पहली घटना- सलकनपुर में नहाने के लिए गई तीन लड़कियां डूबीं
  • दूसरी घटना- दमोह में सगे-भाई बहन सहित 4 बच्चों के शव तालाब में मिले

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 06:03 PM IST

भोपाल। मध्य प्रदेश के सीहोर जिले के सलकनपुर और दमोह में शुक्रवार दोपहर बाद डूबने से सात बच्चों की मौत हो गई। सलकनपुर के पास नर्मदा के आंवली घाट पर नहाते समय डूबने से तीन लड़कियों की मौत हो गई। दमोह में सगे भाई-बहन सहित दो लड़कियों के शव तालाब मिले हैं। 

 

सलकनपुर: परिजनों के साथ माता के दर्शन को आईं थी लड़कियां

sehore

सीहोर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बैरसिया थाना क्षेत्र के गांव चापड़िया निवासी काजल कुशवाह, विनीता और गांव भारंगपुर थाना विदिशा निवासी पायल अपने परिजनों के साथ सलकनपुर दर्शन के लिए आई थीं। उनके साथ भारती कुशवाह भी अपने परिजनों के साथ आई थी। सलकनपुर देवी धाम पर दर्शन के बाद वापस लौटते समय सभी आंवलीघाट पहुंचे। परिजन घाट से दूर ही रुक गए थे, जबकि चारों बच्चियां नहाने के लिए नर्मदा घाट पर चलीं गईं। इसी दौरान नहाते समय काजल गहरे पानी में चली गई और डूबने लगी। इसे बचाने के लिए विनीता, पायल और भारती ने प्रयास किए। लेकिन ये तीनों भी काजल के साथ डूबने लगीं। चारों बच्चियों को डूबता देख जब तक लोग यहां पहुंचते तब तक बहुत देर हो चुकी थी। ये लोग सिर्फ भारती को ही सुरक्षित निकाल सके, जबकि काजल, विनीता और पायल डूब गईं। 

dd

अवैध उत्खनन का असर: आंवलीघाट में लोगों के डूबने की वजह जानने के लिए करीब 2 साल पहले पुलिस ने यहां गहराई नापने के प्रयास किए थे तो चौकाने वाली स्थिति सामने आई थी। करीब 2 किमी क्षेत्र में फैले आंवलीघाट पर कहीं तो नर्मदा की गहराई मात्र 20 फीट थी तो कहीं पर गहराई 70 फीट से भी ज्यादा थी। यह गहराई एक सुरंग जैसे गड्ढे के रूप में थी जिस पर अनुमान लगाया गया था कि पनडुब्बी या अन्य तरीके से रेत के उत्खनन से यह स्थिति बनी थी। लेकिन इसके बाद भी यहां सुरक्षा के कोई व्यापक प्रयास नहीं किए गए। 

 

दमोह: पिता ने कहा-मेरे बच्चों की हत्या की गई 

sd

दमोह के नोहटा थाना क्षेत्र के बड़याऊ गांव में तालाब में एक साथ चार बच्चों के शव मिले हैं। दोपहर में बच्चे घर से निकलने थे और शाम को उनके शव तालाब में मिले। बड़याऊ निवासी आनंद शाह की आसमा और बेटे रियाज एवं फिजा पुत्री मकसूद और नगमा पिता लल्लू शाह के शव गांव से कुछ दूरी पर स्थित तालाब में शाम करीब 6 बजे देखे गए। पुलिस मौके पर पहुंचकर वाहनों की लाइट और टार्चों के उजाले में तालाब से शवों को बाहर निकलवाया। परिजनों के अनुसार दोपहर के समय बच्चे नहाने की बोलकर तालाब गए थे लेकिन शाम तक लौटकर नहीं आए तो उनकी तलाश शुरू की गई लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चला। बाद में तालाब के पास तलाश करने पर कपड़े चप्पल देखे गए जिससे तालाब में जाकर देखा तो शव मिले। सगे भाई बहनों की मौत पर पिता द्वारा संदेह जताया जा रहा है और हत्या का आरोप लगाया है। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..