भोपाल / क्षेत्रीय आतंकवाद हमारे यहां नहीं, अमेरिका और हॉलैंड में है, कश्मीर में भी आतंकी बाहर से आए: कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छात्राओं को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छात्राओं को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने आज मप्र मस्जिद के नए भवन का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने आज मप्र मस्जिद के नए भवन का लोकार्पण किया।
X
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छात्राओं को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।मुख्यमंत्री कमलनाथ ने छात्राओं को सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने आज मप्र मस्जिद के नए भवन का लोकार्पण किया।मुख्यमंत्री ने आज मप्र मस्जिद के नए भवन का लोकार्पण किया।

  • मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मध्यप्रदेश मस्जिद कमेटी के नए भवन का लोकार्पण किया 
  • इमाम का वेतन 5000 और मोईज्जन का वेतन बढ़ाकर 4500 रुपए करने को मंजूरी दी

दैनिक भास्कर

Feb 25, 2020, 04:45 PM IST

भोपाल. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि भारत में क्षेत्रीय आतंकवाद नहीं है। हमारे यहां कश्मीर में भी जो आतंकी हैं, वह भी बाहरी हैं, वहां के स्थानीय नागरिक नहीं। क्षेत्रीय आतंकवाद हाॅलैंड और अमेरिका में है। कमलनाथ ने कहा- "हमारा देश भारत और हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति इसलिए महान है क्योंकि इसमें एक-दूसरे के प्रति आदर और सम्मान की भावना के साथ ही एकजुट होकर रहने की विशेषता है। नाथ मंगलवार को ताजुल मस्जिद के समीप बने मध्यप्रदेश मस्जिद कमेटी के नए भवन का लोकार्पण करने पहुंचे थे।"

मुख्यमंत्री ने कहा- हमारे यहां पर आतंकी पैदा नहीं होते हैं। हमारी अनेकता में एकता की संस्कृति इसलिए आज तक अक्षुण्ण है क्योंकि पुरानी पीढ़ी के लोगों ने इसे न केवल निभाया बल्कि देश और समाज को सुरक्षित रखने के लिए समर्पित रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मानव सेवा सबसे बड़ा धर्म है, इसके जरिए हम जरूरतमंद लोगों की मदद करके अपने धर्म-धर्म द्वारा दिए गए संदेश का पालन करते हैं। आज हमारे सबसे बड़ी चुनौती यह है कि हम अपने देश की महान संस्कृति के मूल, सभ्यता और विविधता को युवा पीढ़ी तक पहुंचाएं। वे इसे आत्मसात करें जिससे हमारा देश सदैव सुरक्षित और एकजुट रह सके। 

मस्जिद कमेटी के नए भवन का लोकार्पण 
कार्यक्रम में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील द्वारा प्रस्तावित इमाम के वेतन को 2200 से बढ़ाकर 5000 और मोईज्जन के वेतन को 1900 से बढ़ाकर 4500 रुपए करने पर मुख्यमंत्री ने सहमति प्रदान कर दी। मंत्री अकील ने मस्जिद के काजियों के लिए भी वेतन की मांग की थी। फिलहाल, कमलनाथ ने इस पर सहमति नहीं जताई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना