पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Bhopal News Mp News Ganesh Pandals Will Be Made From Flowers Compost Using Incense Sticks And Worship Material

गणेश पंडालों के फूलों से बनाई जाएगी अगरबत्ती और पूजन सामग्री से कम्पोस्ट

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement
एक सितंबर से शुरू होने वाले गणेशोत्सव के दौरान झांकी पंडालों, मंदिरों और घरों में इकट्ठा होने वाले फूलों से अगरबत्ती बनाई जाएगी। नारियल की खोल और दूसरी पूजन सामग्री का उपयोग कम्पोस्ट बनाने के लिए किया जाएगा। पूरे शहर में 500 से ज्यादा छोटी-बड़ी झांकियों में गणेश प्रतिमाओं की स्थापना होती है। घरों में गणेश प्रतिमा स्थापना की संख्या यदि जोड़ी जाए तो यह हजारों में होती है। इसके अलावा शहर के सभी मंदिरों में गणेशोत्सव के दौरान विशेष पूजा-अर्चना के कार्यक्रम होते हैं। एक अनुमान के अनुसार शहर में गणेशोत्सव के दौरान दस दिन में लगभग 400 क्विंटल फूल का उपयोग होता है।

गणेश चतुर्थी और अनंत चतुर्दशी के दिन 50-50 क्विंटल फूल का उपयोग होता है। शेष दिनों में 35 से 40 क्विंटल तक फूल उपयोग होता है। अब तक यह फूल सामान्य कचरे में फैंक दिए जाते हैं। पिछले साल कुछ युवाओं ने गणेशोत्सव और दुर्गोत्सव में इन फूलों को इकट्ठा कर अगरबत्ती बनाने का प्रयोग किया था, जो काफी सफल रहा। अब निगम इसे आगे बढ़ा रहा है। निगम हर पंडाल और मंदिर से फूलों के साथ पूजन सामग्री भी इकट्ठा करेगा। निगम प्रशासन आमजनों से भी अपील करेगा कि वे अपने घर में स्थापित गणेश प्रतिमाओं के फूल व पूजन सामग्री पास के मंदिर या पंडाल में दे दें। यहां से निगम की गाड़ी यह सामग्री लेकर जाएगी। निगम की योजना पूजन सामग्री का उपयोग कम्पोस्ट बनाने में होगा।

पर्यावरण की खातिर....आयोजन के दस दिन में लगभग 400 क्विंटल फूल का होता है उपयोग

पूरे शहर में लगेंगी दस गाड़ियां

नगर निगम पूरे शहर में दस गाड़ियां केवल फूल और पूजन सामग्री इकट्ठा करने के लिए लगाएगा। इन गाड़ियों से अन्य कोई भी कचरा ट्रांसपोर्ट नहीं किया जाएगा। इन गाड़ियों को विशेष तौर पर सजाया जाएगा।

स्वच्छ-ईको फ्रेंडली पंडाल होंगे पुरस्कृत : नगर निगम गणेश पंडालों के बीच प्रतियोगिता भी कराएगा। ईको फ्रेंडली और स्वच्छ पंडालों को निगम पुरस्कृत करेगा। पुरस्कारों की घोषणा अगले सप्ताह होगी।

हर जोन में संवाद आज

रविवार को सभी 19 जोन कार्यालयों में संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसमें स्वच्छता के साथ जल संचय और पर्यावरण संरक्षण के बारे में आम नागरिकों से चर्चा की जाएगी। सभी जोन अध्यक्ष इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे। निगमायुक्त ने हर जोन में कार्यक्रम आयोजन के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए हैं।

स्वच्छ मस्जिद के लिए चल रहा है रजिस्ट्रेशन

स्वच्छता से मस्जिदों को जोड़ने के लिए भी एक अभियान चल रहा है। स्वच्छ मस्जिद के नाम से शहर में प्रतियोगिता चल रही है। निगम स्वच्छ मस्जिद को पुरस्कृत करेगा। इसके लिए रजिस्ट्रेशन जारी है। बकरीद के मौके पर भी मुस्लिम समाज के धर्म गुरुओं आदि से चर्चा कर शहर में स्वच्छता के लिए विशेष प्रयास किए गए थे। जल्द ही एेसी प्रतियोगिता मंदिरों के लिए आयोजित की जाएगी।

बना रहे योजना : दत्ता

नगर निगम कमिश्नर बी विजय दत्ता ने बताया कि गणेश पंडालों को स्वच्छता से जोड़ने और पूजन सामग्री के बेहतर उपयोग की हम योजना बना रहे हैं। अगले सप्ताह तक अंतिम रूप देंगे। विशेष गाड़ियों का इंतजाम कर फूल व पूजन सामग्री इकट्ठा कराई जाएगी। फूल से अगरबत्ती और पूजन सामग्री से कम्पोस्ट बनेगा।

Advertisement

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement