• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Bhopal News
  • News
  • Bhopal - माता-पिता अपने बच्चों से दोस्ताना व्यवहार रखकर उनकी परेशानियों को हल करें
--Advertisement--

माता-पिता अपने बच्चों से दोस्ताना व्यवहार रखकर उनकी परेशानियों को हल करें

मप्र में प्रतिदिन 28 आत्महत्याएं हो रही हैं। यानी हर 55 मिनट में एक आत्महत्या का केस सामने आ रहा है। वहीं भोपाल में...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 02:11 AM IST
मप्र में प्रतिदिन 28 आत्महत्याएं हो रही हैं। यानी हर 55 मिनट में एक आत्महत्या का केस सामने आ रहा है। वहीं भोपाल में वर्ष 2014 में 40 और वर्ष 2015 में 378 आत्महत्याएं हुईं। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में 15वें आत्महत्या रोकथाम दिवस पर सोमवार को आयोजित कार्यक्रम में यह जानकारी मानव संग्रहालय के संयुक्त निदेशक दिलीप सिंह ने दी। जीवन संकल्प (सहयोग, समझाइश और समन्वय) थीम पर आयोजित इस कार्यक्रम में बीयू भोपाल की राजीव गांधी पीठ के प्रो. एसएन चौधरी, लॉ यूनिवर्सिटी के प्रो. तपन मोहंती, बीएसएसएस के प्रो. विनय मिश्रा, एम्स के डॉ. अभिजीत आर रोजातकर मुख्य रूप से शामिल हुए।

तो सावधान होने की आवश्यकता है

डाॅ. अभिजीत आर रोजातकार ने बताया कि हमें यदि किसी व्यक्ति में निराशा के भाव नज़र आए और जीने के प्रति अरुचि दिखे तो सावधान होने की आवश्यकता है। प्रो. विनय मिश्रा ने कहा कि माता-पिता को चाहिए कि बच्चों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए उनके साथ दोस्ताना व्यवहार रखकर उनकी परेशानियों को हल करें।