सागर / ठगी के शिकार व्यापारियों ने वॉट‌‌्सएप ग्रुप बनाया, पुलिस को जोड़ा, सूचनाएं मिलीं तो भोपाल से पकड़े गए पिता-पुत्र



Police caught father and son cheating as traders
X
Police caught father and son cheating as traders

  • सागर के ठेकेदार से पाइप सप्लाई के नाम पर  1.12 करोड़ रुपए एडवांस लेकर हो गए थे रफूचक्कर

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2019, 02:40 AM IST

सागर. भोपाल निवासी पिता-पुत्र ने पाइप सप्लाई की डील कर सागर के शासकीय ठेकेदार से 1 कराेड़ 12 लाख रुपए अपने अकाउंट में ट्रांसफर करा लिए और रफूचक्कर हाे गए। पुलिस ने अाराेपी पिता-पुत्र काे भाेपाल से गिरफ्तार कर लिया है। इन्होंने ठेकेदार से रकम लेकर कुछ अन्य फर्माें के पास जमा करा दी थी। सागर पुलिस ने भाेपाल की एेसी ही दाे फर्माें से 26 लाख 29 हजार रुपए कैश जब्त किया है। ठगी के शिकार हुए व्यापारियों द्वारा बनाए गए वॉट‌‌्सएप ग्रुप की मदद से आरोपियों की गिरफ्तारी हुई।

 

एडिशनल एसपी विक्रम सिंह ने बताया कि नरयावली के मूडरा गांव निवासी लखन सिंह राजपूत शासकीय ठेकेदार हैं। वे भोपाल निवासी मुस्तफा जाकी व उसके चार्टर्ड अकाउंटेंट पुत्र ताहिर से मिले थे। ताहिर ट्रेडर्स के नाम से इनका लाेहे के पाइप सप्लाई का काम है। राजपूत ने एक प्राेजेक्ट के लिए उनसे पाइप सप्लाई की डीलिंग की। पहली बार ठेकेदार काे मार्केट रेट से कम कीमत पर 25 लाख रुपए के पाइप सप्लाई किए गए। इसके बाद ठेकेदार काे विश्वास में लेकर मुस्तफा ने दाेबारा 1.12 करोड़ के पाइप सप्लाई करने का साैदा किया और नवंबर 2018 से मार्च 2019 तक तीन किस्तों में रकम अपने खाते में जमा करा ली।

 

ठेकेदार जब पाइप सप्लाई करने की बात कहता ताे वे बहाने बना देते। भाेपाल जाकर जब ठेकेदार ने पिता-पुत्र के बारे में जानकारी जुटाई ताे उन्हें मुस्तफा जाकी द्वारा कई लोगों से ठगी करने की भी जानकारी मिली। इसके बाद उन्हाेंने नरयावली थाने में एफअाईअार दर्ज कराई।

 

दिल्ली, इंदाैर, पुणे तक जुड़े हैं तार; सामने अा सकते हैं ठगी के और भी मामले

मूलत: नरसिंहगढ़ निवासी मुस्तफा जाकी ने दिल्ली, इंदाैर, भाेपाल व सागर के कुछ अाैर लाेगाें से पाइप सप्लाई के नाम पर एडवांस राशि ली थी। राजपूत काे भाेपाल में एेसे ही कुछ पीड़ित लाेग मिले। इन सबने मिलकर ठगी के शिकार नाम से एक वाॅट्सएप ग्रुप बनाया। इसमें नरयावली थाना प्रभारी अानंद राज काे भी जाेड़ा गया था।

 

इसमें ठग पिता-पुत्र के संबंध में सूचनाएं शेयर की जाने लगीं। कुछ दिन पहले कार में घूमते ठग पिता-पुत्र का फाेटाे डाला गया, जिसके बाद पुलिस सक्रिय हुई। एक मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपियों को कबाड़खाना इलाके से दबाेच लिया। मुस्तफा का बेटा ताहिर अकाउंट में पैसा ट्रांसफर हाेने के बाद चंद मिनटाें में दूसरी फर्माें काे ट्रांसफर कर देता था। उनकी ताहिर ट्रेडर्स के नाम से फर्म भी फर्जी निकली।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना