--Advertisement--

मध्यप्रदेश / रकम नहीं लौटाई तो सिपाही ने थाने में गिरवी रख ली स्कूटर, अंधेरे में आया युवक चलाकर ले गया



Police kept mortgage scooty
X
Police kept mortgage scooty

शाहजहांनाबाद थाने में हुई घटना का वीडियो वायरल, एसपी ने दो दिन में मांगी सीएसपी से रिपोर्ट

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 05:20 AM IST

भोपाल . शाहजहांनाबाद थाना परिसर में खड़ी स्कूटर को एक युवक रात के अंधेरे में पुलिस के सामने ही चलाकर ले गया। ये स्कूटर थाने के ही एक सिपाही ने उससे बगैर लिखापढ़ी के गिरवी रखवाई थी। युवक को सिपाही की रकम चुकानी थी, जो वह नहीं दे पा रहा था। चार दिन पहले हुई घटना का पता अफसरों को तब चला, जब थाने के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो गए।   

 

शाहजहांनाबाद थाने में बादाम सिंह बतौर सिपाही पदस्थ हैं। बादाम ने कुछ समय पहले अपने दोस्त के जरिए समीर नामक युवक को 15 हजार रुपए उधार दिलवाए थे। तय समय पर युवक रकम नहीं लौटा सका तो बादाम उसकी स्कूटर बतौर गिरवी थाने ले आए।  उन्हें इसका अंदाजा नहीं था कि दूसरी चाबी समीर के पास भी होगी। 5-6 नवंबर की दरमियानी रात समीर ने स्कूटर में दूसरी चाबी लगाई और ले गया।

ये वाकया पुलिसकर्मियों ने देखा भी, लेकिन उसे रोकने की कोशिश नहीं की। बात फैली तो सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। पता चला कि स्कूटर समीर ले गया है। एएसपी शशांक गर्ग के मुताबिक मामले की जांच सीएसपी नागेंद्र पटेरिया को सौंप दी गई है।   
टीआई बोले- किसी ने थाने में खड़ी करवाई होगी स्कूटर : मामला छिपाने की फिराक में थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह मुकाती मीडिया से झूठ बोलते रहे। पहले उन्होंने कहा कि कोई बाहर व्यक्ति अपनी गाड़ी थाना परिसर में खड़ी कर गया होगा। बाद में बोले कि किसी थाना स्टाफ ने अपने परिचित की गाड़ी खड़ी करवाई होगी।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..