रायसेन / 22 साल कोर्ट में घूमे, आखिर 3.15 लाख रुपए देकर खाली कराई अपनी ही दुकान



raisen
X
raisen

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 11:43 AM IST

रायसेन। शनिवार को आयोजित हुई नेशनल लोग अदालत में कई लोगों ने आपस में समझौता कर अपने पुराने केसों को खत्म कर लिया है। 22 साल से कोर्ट में मकान मालिक और दुकानदार के बीच केस चल रहा था। आखिरकार मकान मालिक को ही किराएदार को 3 लाख 15 हजार रुपए देकर समझौता करना पड़ा है। इस समझौते के बाद किराएदार ने दुकान खाली कर दिया है। 


सांची रोड पर रहने वाले रिजवान खां ने अयूब खां को अपनी दुकान किराए पर दी थी, तब से इस दुकान में हेयर सैलून की दुकान चल रही है। रिजवान ने अपनी दुकान खाली कराना चाही तो उन्होंने दुकान खाली करने से मना कर दिया। अयूब खां का निधन हो चुका है। अयूब खां की बेटी यासमीन खां ने 1997 में कोर्ट में केस लगा दिया। 


जिला न्यायालय से रिजवान के पक्ष में फैसला आया, लेकिन यासमीन ने हाईकोर्ट से स्टे ले लिया। तब से मामला कोर्ट में विचाराधीन था। अब जिला न्यायालय में मकान मालिक रिजवान और किराएदार यासमीन खां ने समझौता कर लिया है। प्रथम व्यवहार न्यायाधीश मनीषा जैन और वकीलों ने दोनों पक्षों को समझाया, तब यासमीन और उसके पति ने 3.15 लाख रुपए मिलने पर दुकान खाली करने का समझौता कर लिया। 

COMMENT