Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» Reconstruction Of Roads In North TT Nagar

जहां कोई नहीं रहता, वहां सड़कों का डामरीकरण, विभाग ने कहा- बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते

तर्क है कि मकान भले ही खंडहर हो गएं, लेकिन वहां रह रहे लोगों को बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते।

Bhaskar News | Last Modified - May 02, 2018, 01:47 AM IST

  • जहां कोई नहीं रहता, वहां सड़कों का डामरीकरण, विभाग ने कहा- बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते
    +2और स्लाइड देखें

    भोपाल.खंडहर में तब्दील हो चुके नॉर्थ टीटी नगर के क्वाटर्स के बीच इन दिनों लोक निर्माण विभाग सड़कों पर डामरीकरण कर रहा है। डामरीकरण का कार्य टीटी नगर दशहरा मैदान से झरनेश्वर मंदिर तक हो रहा है। नॉर्थ टीटी नगर की एक दर्जन से अधिक गलियों में डामरीकरण का काम पूरा हो चुका है। ये वही इलाका हैं जहां स्मार्ट सिटी प्रस्तावित है। हालांकि पीडब्ल्यूडी के अफसरों का तर्क है कि मकान भले ही खंडहर हो गएं, लेकिन वहां रह रहे लोगों को बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते।

    पहली ही बारिश में उखड़ जाएगा ऐसा डामरीकरण
    जानकारों की मानें तो बेहद घटिया किस्म का मटेरियल सड़कों के निर्माण में इस्तेमाल हो रहा है। पहले से बनी सड़क पर डामर और बारीक गिट्‌टी की पतली परत बिछाई जा रही है।

    39 लाख से गलियों में हो रहा डामरीकरण
    दशहरा मैदान से झरनेश्वर मंदिर तक गलियों में डामरीकरण किया जा रहा है। यहां एक दर्जन से अधिक गलियां हैं, जिनमें सरकारी क्वाटर्स हैं। अब तक 11 गलियों में डामरीकरण हो चुका है।

    पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री पंकज व्यास ने बताया कि सिर्फ उसी हिस्से में डामरीकरण कराया जा रहा है, जो स्मार्ट सिटी फेज-1 के एरिया से बाहर है। निर्माणाधीन बोलेवार्ड के दूसरी ओर अब भी सरकारी क्वाटर्स में लोग रह रहे हैं। उन्हें बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराने के लिए 4.37 किमी. सड़क की मरम्मत करा रहे हैं।

  • जहां कोई नहीं रहता, वहां सड़कों का डामरीकरण, विभाग ने कहा- बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते
    +2और स्लाइड देखें
  • जहां कोई नहीं रहता, वहां सड़कों का डामरीकरण, विभाग ने कहा- बुनियादी सुविधा से वंचित नहीं रख सकते
    +2और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×