मौसम / प्री मानसून की पहली बारिश से तर हुआ भोपाल; गर्मी से राहत, मप्र के कई हिस्सों में बरसे मेघ

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 07:41 PM IST



भोपाल में शुक्रवार को दोपहर बाद प्री-मानसून की बारिश हुई। भोपाल में शुक्रवार को दोपहर बाद प्री-मानसून की बारिश हुई।
इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है।
दमोह में गुरुवार को रात तक बारिश होती रही। दमोह में गुरुवार को रात तक बारिश होती रही।
बारिश से गर्मी से राहत मिल जाएगी। बारिश से गर्मी से राहत मिल जाएगी।
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
X
भोपाल में शुक्रवार को दोपहर बाद प्री-मानसून की बारिश हुई।भोपाल में शुक्रवार को दोपहर बाद प्री-मानसून की बारिश हुई।
इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है।इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है।
दमोह में गुरुवार को रात तक बारिश होती रही।दमोह में गुरुवार को रात तक बारिश होती रही।
बारिश से गर्मी से राहत मिल जाएगी।बारिश से गर्मी से राहत मिल जाएगी।
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh
Heavy relief in the night after 17 days in Bhopal, 19 mm rain in Damoh

  • ग्वालियर और जबलपुर संभाग के जिलों में बारिश होने गर्मी से मिली राहत
  • भोपाल में प्री-मानसून गतिविधि बढ़ी है, अब प्रदेश के अन्य इलाकों से होती हुई पहुंची 

भोपाल. भोपाल सहित मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कई स्थानों पर तेज हवाओं के साथ हुई प्री-मानसून बारिश से करीब एक महीने से प्रचंड गर्मी और लू से परेशान लोगों ने राहत की सांस ली।

 

वैसे प्रदेश में कुछ स्थानों पर दो दिन से प्री-मानसून गतिविधियां धूल भरी आंधी, तेज हवाएं और बूंदाबादी चल रही है, लेकिन शुक्रवार को भोपाल में दोपहर बाद तेज हवा के साथ हुई पहली बारिश से शहर पानी से तर हो गया और सड़कों पर पानी बहने लगा। इस वर्षा से शहरवासी गर्मी से राहत मिलने के साथ प्रसन्न हो गए और मौसम सुहावना हो गया। यहां अब भी बादल छाए हुए हैं। 

 

स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक उदय सरवटे ने बताया कि भोपाल में 40 से 45 मिनट हुई। भोपाल में इस दौरान 30.4 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई। हवा की रफ्तर भी इस दौरान 35 से 40 किमी रही। इस बारिश के बाद तापमान के फिर ज्यादा बढ़ने की संभावना नहीं है। 

 

सरवटे के अनुसार इस दौरान रायसेन में 24 मिमी, जबलपुर में 7, सतना में 5 और उज्जैन में 4 मिमी बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा अन्य कई स्थानों पर भी वर्षा या बूंदाबांदी हुई है। दमोह के अलावा जबलपुर में 14, खजुराहो में एक, टीकमगढ़ में 5, सतना में 1.2 मिमी बारिश हुई। हल्की बारिश से नौगांव और इंदौर भी तर हुए। भोपाल में शुक्रवार की सुबह से ही पारे की चाल धीमी रही। मौसम विभाग के अनुसार, भोपाल में तेज हवा के साथ बूंदे पड़ने की संभावना है।

 

चक्रवाती तूफान 'वायु' का असर 
मानसून पूर्व की इस वर्षा में अरब सागर से उठे चक्रवातीय तूफान “वायु” का भी प्रभाव रहा है। हालांकि तूफान का मार्ग गुजरात के तटवर्ती इलाकें से टकराने से पूर्व ही बदल गया, लेकिन समुद्र से आ रही नम हवाओं की वजह से मध्यप्रदेश में अनेक स्थानों पर वर्षा हो रही है और तापमान में गिरावट आ गई। पिछले चौबीस घंटों में भी ग्वालियर, जबलपुर, सागर, रीवा, शहडोल और इंदौर संभागों में कहीं-कहीं वर्षा हुई है।

 

तापमान में गिरावट : भोपाल में हुई बारिश से अधिकतम तापमान गुरुवार के मुकाबले कुछ और गिरावट के बाद 39.1 डिग्री दर्ज हुआ है। हालांकि यह अब भी सामान्य से 0.6 डिग्री ज्यादा है। रात का सामान्य से दो डिग्री ज्यादा 28 रहा। इस बारिश के बाद कई स्थानों पर उमस भी बढ़ गई। प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान 43.2 डिग्री ग्वालियर में दर्ज हुआ है। इसके अलावा नौगांव में 43 और खजुराहों में 42.6 दर्ज किया गया।

 

अब आगे क्या : सरवटे के अनुसार दक्षिण पश्चिम मानसून के मध्य प्रदेश में जून माह के अंतिम सप्ताह में आने का अनुमान है। इस बीच मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश भर में अनेक स्थानों पर तेज हवाओं के साथ हल्की बारिश होने का अनुमान है। भोपाल में भी गरज चमक के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है।

COMMENT