विदिशा / 2 देसी कुत्तों को बचाने 2 घंटे तक चला रेस्क्यू; रोटी-ब्रेड खाई, फिर कर दिया रेस्क्यू टीम पर हमला

विदिशा में देशी कुत्तों को बचाने के लिए दो घंटे चला रेस्क्यू। विदिशा में देशी कुत्तों को बचाने के लिए दो घंटे चला रेस्क्यू।
X
विदिशा में देशी कुत्तों को बचाने के लिए दो घंटे चला रेस्क्यू।विदिशा में देशी कुत्तों को बचाने के लिए दो घंटे चला रेस्क्यू।

  • तीन दिन से मंदिर के पास फंसे हैं कुत्ते, ब्रेड खाने के बाद रेस्क्यू टीम पर हमला बोल दिया 
  • रेस्क्यू टीम को बोट छोड़कर भागना पड़ा, अब तक कुत्तों को बाहर नहीं निकाला जा सका 

दैनिक भास्कर

Aug 27, 2019, 02:11 PM IST

विदिशा. बेतवा के चरणतीर्थ मंदिर पर पिछले तीन दिन से बाढ़ में फंसे कुत्तों को बचाने पहुंची रेस्क्यू टीम के सदस्यों को खुद अपनी जान बचाकर बोट से भागना पड़ा। टीम के सदस्य कुत्तों के काटने के डर से रेस्क्यू बीच में ही छोड़कर भाग निकले। दरअसल पिछले तीन दिन से बेचवा उफान पर है। वहां तीन दिन से दो कुत्ते फंसे थे, उन्हें बचाने के लिए रेस्क्यू टीम ब्रेड और रोटी लेकर पहुंची। कुत्तों ने रोटी-ब्रेड खाई, इसके बाद टीम पर हमला कर दिया। 

 

बाढ़ की वजह से बेतवा के बीचों-बीच स्थित चरणतीर्थ मंदिर का रास्ता भी बंद हो गया है। मंदिर जाने वाला पुल पानी में डूबा हुआ है। वहीं दूसरा रास्ता भारती मठ वाला भी बंद है। सोमवार सुबह कुछ लोगों ने वहां फंसे दो देसी आवारा कुत्तों को देखा। इसके बाद लोगों का कहना था कि कुत्ते भूखे हैं।

 

तीन दिन से फंसे थे दो कुत्ते

मुक्ति धाम सेवा समिति के सचिव मनोज पांडे का कहना था कि 3 दिनों से दो कुत्ते फंसे हुए थे और सोमवार को मैंने होमगार्ड के कंपनी कमांडर भोपाल उमेश तिवारी को मोबाइल पर इसकी सूचना दी। ताकि वे इनको बचाने और भोजन भी कराएं। तत्परता के साथ उमेश तिवारी जो पहले विदिशा के कंपनी कमांडर रह चुके हैं उन्होंने विदिशा होमगार्ड को अलर्ट किया। 

 

आराम से खाई ब्रेड, फिर रेस्क्यू टीम पर मारा झपट्टा 
इसके बाद रेस्क्यू करने की 2 घंटे मशक्कत की गई। पहले चक्कर में उनको ब्रेड भेजी गई इसके बाद बड़ी मात्रा में लगभग 7 किलो के लगभग रोटियां भेजी गई। दोनों कुत्तों ने भोजन आराम से खाया लेकिन रेस्क्यू बोट पर आने को तैयार नहीं थे। वह टीम पर झपट्टा मार कर उन्हें काटने को दौड़ रहे थे। 


इसलिए उनको सिर्फ भोजन कराया गया। टीम बोट लेकर पहुंची तब कुत्तों ने सदस्यों पर ही हमला कर दिया। कुत्तों को बचाने पहुंची टीम को खुद अपनी जान बचाकर भागना पड़ा। टीम में होमगार्ड के कंपनी कमांडर डीआर वर्मा, एएसआई एलएन विश्वकर्मा, हवलदार रमेश शर्मा, सैनिक महेंद्र सिंह राजपूत, सैनिक पुष्पराज सिंह राजपूत, सैनिक श्यामलाल उइके,सैनिक जीवन और अमित कपूर मुख्य रूप से शामिल थे। 

 

DB Originals - DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना