मप्र / आरएसएस का नाम राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ नहीं राष्ट्रीय षड्यंत्रकारी संगठन होना चाहिए: गोविंद सिंह



गोविंद सिंह गोविंद सिंह
X
गोविंद सिंहगोविंद सिंह

  • गुरुवार को भिंड में ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थन में लगे पोस्टर पर प्रतिक्रिया दे रहे थे मंत्री

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2019, 12:23 PM IST

भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने शनिवार को कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एक षड्यंत्रकारी संगठन है। इसमें बच्चों को बचपन से झूठ बोलना सिखाया जाता है। इसका नाम राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ नहीं राष्ट्रीय षड्यंत्रकारी संगठन होना चाहिए।

 

दरअसल, गुरुवार को भिंड जिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के आगमन के दौरान समर्थन में भाजप के एक स्थानीय नेता द्वारा स्वागत पोस्टर लगवाए गए थे। गोविंद सिंह के गृह जिले में लगे इन पोस्टरों पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि भिंड में सिंधिया के लिए पोस्टर लगना भाजपा का षड्यंत्र था। भाजपा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ही राजनीतिक पार्टी है। वहां बचपन से झू बोलो और षड्यंत्र फैलाओ की ट्रेनिंग दी जाती है। इसलिए इसका असली नाम राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ नहीं राष्ट्रीय षड्यंत्रकारी संगठन होना चाहिए।

 

इससे पहले भी इसी साल मार्च में लोकसभा चुनाव से पहले भोपाल संसदीय क्षेत्र से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद भाजपा की ओर से लगातार हमले बोले जा रहे हैं। इस दौरान भी मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने सीधे तौर पर संघ पर हमला बोला है। भाजपा का पितृ संगठन तो आरएसएस है। आरएसएस समाज में अफवाह फैलाने वाला संगठन है, इसका फुलफार्म वास्तव में राष्ट्रीय षड्यंत्रकारी संगठन है। 

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना