--Advertisement--

जेईई मेन्स में सिलेक्शन नहीं हुअा तो छात्रा ने लगाई फांसी, नहीं मिला कोई सुसाइड नोट

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 01:20 AM IST

कस्तूरबा नगर निवासी आशीष उपाध्याय वकालत करते हैं। उनकी 17 वर्षीय बेटी ईशा ने इसी साल 12वीं की परीक्षा पास की है।

Schoolgirl hanging after No selection in JEE Mains

भोपाल. जेईई मेन्स में सिलेक्शन न होने से परेशान छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसे परेशान देखकर माता-पिता ने एक और कोशिश करने की समझाइश भी दी थी। गोविंदपुरा पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। कस्तूरबा नगर निवासी आशीष उपाध्याय वकालत करते हैं। उनकी 17 वर्षीय बेटी ईशा ने इसी साल 12वीं की परीक्षा पास की है। इसके बाद वह जेईई मेंन्स की परीक्षा दी थी। सोमवार को आए परिणाम में वह सफल न हो सकी। उसकी उदासी देख परिवार ने उसे काफी समझाया।


पिता ने दोनों बेटियों काफी देर तक मन बहलाया फिर खाने के बाद सभी सो गए। इसके पहले ईशा ने छोटी बहन के साथ कैरम भी खेला और ड्रॉइंग रूम में सो गई। सुबह साढ़े पांच बजे जगे आशीष ने ड्रॉइंग रूम के दरवाजे पर दस्तक दी। दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। अंदर देखा तो ईशा ने खिड़की की ग्रिल से फंदा लगाकर जान दे दी थी। मौके पर पहुंची गोविंदपुरा पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव परिवार को सौंप दिया है।

मशीन ऑपरेटर ने भी दी जान

स्टेशन बजरिया थाना क्षेत्र में भी एक मशीन ऑपरेटर ने बुधवार सुबह फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। द्वारिका नगर निवासी 25 वर्षीय लोकेश बोहरे यहां मां और भाई के साथ रहते थे। पुलिस के मुताबिक लोकेश होशंगाबाद स्थित एक पेपर मिल में मशीन ऑपरेटर थे। बुधवार सुबह करीब आठ बजे उन्होंने चाय पी और अपने कमरे में चले गए। कुछ देर बाद मां ने उन्हें फंदे पर लटके देखा। स्टेशन बजरिया पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

X
Schoolgirl hanging after No selection in JEE Mains
Astrology

Recommended

Click to listen..