• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • Scindia wrote to PM Modi; 10 thousand crore relief package demanded for flood affected people

मप्र / सिंधिया ने पीएम मोदी को लिखा पत्र; बाढ़ प्रभावितों के लिए जल्द मांगा 10 हज़ार करोड़ का राहत पैकेज



मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के नारायणगढ़ में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का निरीक्षण कर पीड़ितों से मुलाकात की। उनके साथ मंत्री तुलसी सिलावट और मंत्री गोविंद सिंह राजपूत। मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के नारायणगढ़ में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का निरीक्षण कर पीड़ितों से मुलाकात की। उनके साथ मंत्री तुलसी सिलावट और मंत्री गोविंद सिंह राजपूत।
X
मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के नारायणगढ़ में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का निरीक्षण कर पीड़ितों से मुलाकात की। उनके साथ मंत्री तुलसी सिलावट और मंत्री गोविंद सिंह राजपूत।मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के नारायणगढ़ में बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए मकानों का निरीक्षण कर पीड़ितों से मुलाकात की। उनके साथ मंत्री तुलसी सिलावट और मंत्री गोविंद सिंह राजपूत।

  • सिंधिया ने पत्र में लिखा कि प्रदेश में बाढ़ और बारिश से 10-15 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है

Dainik Bhaskar

Sep 26, 2019, 06:23 PM IST

भोपाल. बारिश और बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित मध्य प्रदेश के मंदसौर, नीमच, ग्वालियर-चम्बल संभाग का दौरा करने बाद कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर जल्दी से जल्दी आर्थिक सहायता राशि जारी करने की अपील की है। सिधिंया ने प्रदेश में बाढ़ और बारिश से हुई तबाही को देखते हुए प्रदेश के लिए आर्थिक सहायता को जल्द जारी करने की मांग की है। 

 

सिंधिया ने मंदसौर में बाढ़ प्रभावित इलाके के दौरे के दौरान स्थानीय प्रशासन की कार्यशैली से भी नाखुशी जाहिर की थी। उन्होंने स्थानीय अधिकारियों को जैसा हुआ है, वैसी ही रिपोर्ट देने की हिदायत दी थी। साथ ही किसानों से कहा था कि वह सरकार की सर्वे रिपोर्ट को सही नहीं मानते हैं।  

 

सिंधिया ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा है, "जैसा कि आप को जानकारी है कि मध्य प्रदेश में अतिवृष्टि और बाढ़ से भारी तबाही मचाई है। प्रदेश में 596 लोगों की मौत हुई और करीब 14 लाख किसान प्रभावित हुए हैं। इससे 11 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है।"

 

फसलें बर्बाद और सड़कें नष्ट हो चुकी हैं

पीएम मोदी को लिखे पत्र में सिंधिया ने लिखा है, 'मध्य प्रदेश में अति भारी वर्षा और बाढ़ से बेहद ज्यादा नुकसान हुआ है। मेरे द्वारा बाढ़ एवं अति भारी वर्षा से प्रभावित 10 जिलों का दौरा किया गया है। अति भारी बारिश और बाढ़ से मध्य प्रदेश की फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी हैं, सड़कें कई जगहों पर पूरी तरीके से नष्ट हो चुकी हैं, जनधन की भारी हानि हुई है और काफी संख्या में पशुओं की मृत्यु हुई है। स्कूल, आंगनबाड़ी, बिजली के खंभों, शासकीय कार्यालयों और भवनों को भारी नुकसान पहुंचा है। 

 

10-15 हजार करोड़ का नुकसान 
सिंधिया लिखा है कि प्रदेश में अति भारी बारिश और बाढ़ से मध्य प्रदेश में करीब 596 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है, 1761 पशु मारे गए हैं। 67033 मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं और करीब 14 लाख एकड़ की फसल बर्बाद हुई है। शुरुआती अनुमान के मुताबिक, मध्य प्रदेश में करीब 10 से 15 हजार करोड़ रुपये की क्षति हुई है। सिंधिया ने लिखा है कि मुझे बताया गया है कि मध्य प्रदेश सरकार ने केंद्र को 10 हजार करोड़ रुपये राहत का प्रस्ताव भेजा है। भारी बारिश और बाढ़ से नुकसान को ध्यान में रखते हुए आपसे आग्रह है कि इस राहत राशि को जल्द से जल्द रिलीज किया जाए। 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना