• Hindi News
  • Mp
  • Bhopal
  • State cities will be planned like New York, London, Tokyo, Shanghai, Hong Kong and Munich: Jayawardhan Singh

मप्र / राज्य के शहरों का नियोजन न्यूयार्क, लंदन, टोक्यो, शंघाई, हांगकांग और म्यूनिख जैसा होगा: जयवर्द्धन सिंह



नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।
X
नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

  • नगरीय विकास और आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उपलब्धियां गिनाईं 
  • रियल इस्टेट कारोबार को गति देने के उद्देश्य से 'वन स्टेट-वन रजिस्ट्रेशन' का फार्मूला ला रहे हैं

Dainik Bhaskar

Nov 19, 2019, 07:15 PM IST

भोपाल. नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने बताया है कि मध्यप्रदेश के शहरों का नियोजन विश्व-स्तरीय होगा। इसके लिये न्यूयार्क, लंदन, टोक्यो, शंघई, हांगकांग, जोहान्सबर्ग और म्यूनिख के मास्टर प्लान का अध्ययन किया जा रहा है। इन्हीं शहरों की तर्ज पर प्रदेश के 34 शहरों का जीआईएस बेस्ड मास्टर प्लान बनाने जा रहे हैं। शहरों के महत्वपूर्ण बिन्दुओं ट्रांजिट ओरिएंटेड डेव्हलपमेंट, मिक्स लैण्ड यूज, जोनिंग प्लान और ट्रैफिक इन्पेक्ट स्टडी आदि को प्रदेश के इन 34 शहरों के नियोजन में अपनाया जाएगा।

 

भूमि धारकों को बनाएंगे स्टेक होल्डर 
जयवर्द्धन सिंह ने बताया कि प्रदेश में बहुत जल्द लैण्ड पूलिंग पॉलिसी बनाने जा रहे हैं। इसके जरिए भू-धारकों को स्टेक होल्डर बनाकर भूमि का विकास किया जाएगा। पॉलिसी में हाउसिंग बोर्ड, टूरिज्म और स्थानीय निकाय को भी शामिल करेंगे। रियल इस्टेट कारोबार को गति देने के उद्देश्य से 'वन स्टेट-वन रजिस्ट्रेशन' का फार्मूला ला रहे हैं। सरकार ने 2 हेक्टेयर से कम भूमि वालों को भी आवासीय योजना बनाने की अनुमति दी है।

 

डेढ़ लाख भूमि हीन परिवारों को पट्टा देने की तैयारी 
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री आवास मिशन अंतर्गत 1 लाख 15 हजार आठ सौ बयानवें आवासीय इकाईयों के निर्माण की योजना स्वीकृत की जा चुकी है। प्रदेश के डेढ़ लाख भूमिहीन परिवारों को अब तक निवास योग्य पट्टे वितरण की कार्रवाई जारी है। प्रदेश और शहरों को प्रदूषण से बचाने की दिशा में हमने एक बड़ा कदम उठाया है। 

 

5 नगरीय निकायों में 380 इलेक्ट्रिक बस
नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने बताया कि शहरों को प्रदूषण से बचाने के लिये 5 नगरीय निकायों में 380 इलेक्ट्रिक बस संचालित की जायेंगी। इंदौर में 40 बसों का संचालन भी शुरू हो चुका है। उन्होंने बताया कि मेट्रोपालिटन अथॉरिटी, मेट्रो रेल का संचालन और मां नर्मदा की निर्मलता को बरकरार रखने के लिये नर्मदा किनारे के सभी 21 स्थानीय निकायों में मल-मूत्र निस्तारण प्रबंधन (सेप्टेज मैनेजमेंट) पर कार्य चालू है। सिंह ने कहा कि उनके विभागों से संबंधित वचन-पत्र के सभी वचनों को समय-सीमा में पूरा किया जाएगा। 

 

नगरीय निकायों में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग स्ट्रक्चर बनाए
सिंह ने बताया कि इसके अलावा सभी 378 नगरीय निकायों में 80 हजार से अधिक रूफ वॉटर हार्वेस्टिंग स्ट्रक्चर स्थापित किये गये तथा 10 लाख पौधों का रोपण किया गया। नगरीय निकायों में 11 लाख पारंपरिक लाईटों को एलईडी से परिवर्तित किये जाने का लक्ष्य है, जिससे विद्युत खपत में कमी आएगी। सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को रोकने चार लाख से अधिक कपड़े के झोले बांटे गए हैं।


 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना