लापरवाही / संरक्षित करने की बजाय ढहा दिया 150 साल पुराना बाग फरहत अफ्जा का गेट



भोपाल के 150 साल पुराने बाग फरहत अफ्जा के गेट को ढहा दिया गया। भोपाल के 150 साल पुराने बाग फरहत अफ्जा के गेट को ढहा दिया गया।
इस एेतिहासिक गेट को किसके आदेश से गिराया गया, ये कोई बताने को तैयार नहीं है। इस एेतिहासिक गेट को किसके आदेश से गिराया गया, ये कोई बताने को तैयार नहीं है।
X
भोपाल के 150 साल पुराने बाग फरहत अफ्जा के गेट को ढहा दिया गया।भोपाल के 150 साल पुराने बाग फरहत अफ्जा के गेट को ढहा दिया गया।
इस एेतिहासिक गेट को किसके आदेश से गिराया गया, ये कोई बताने को तैयार नहीं है।इस एेतिहासिक गेट को किसके आदेश से गिराया गया, ये कोई बताने को तैयार नहीं है।

  • भोपाल में जर्जर हो रहे पुरातत्विक धरोहरों को संरक्षित करने के बजाय बुलडोजर चला रहे हैं 
  • नवाबों के समय का ऐतिहासिक जुमेराती गेट भी संरक्षण के अभाव में गिर रहा है 

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 01:27 PM IST

भोपाल. शहर में नवाबी काल की ऐतिहासिक इमारतों को नगर निगम खत्म करने पर आमादा है। जर्जर हो रहे पुरातत्विक धरोहरों को संरक्षित करने के बजाय तोड़ा जा रहा है। गत शनिवार को 150 साल पुराना बाग फरहत अफ्जा गेट को निगम अमले तोड़ दिया। रविवार को मलबा हटाने का काम किया गया। शहर में नवाबी रियासत के 15 दरवाजों में से अब 14 ही बचे हैं। निगम अधिकारियों का तर्क है कि इंजीनियरों से स्ट्रक्चर की जांच कराई गई थी, जिसमें पाया गया कि इसका संरक्षण नहीं किया जा सकता। सुरक्षा को देखते हुए इसको हटाया गया है। 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना