--Advertisement--

दहेज के लालच में ससुराल वाले बने हैवान, गर्भवती बहू को बंधक बनाकर करते थे टॉर्चर

पीड़िता ने महिला सेल को दिए बयानों में आपबीती सुनाई है।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 11:33 AM IST
Torture to pregnant daughter-in-law

दमोह (एमपी)। ससुरालियों द्वारा दहेज के लालच में दमोह की गर्भवती बहू को प्रताड़ित कर बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है। चंगुल से छूटकर आई पीड़िता ने दमोह महिला सेल को अपनी आपबीती सुनाई। उसके मुताबिक, ससुराल पक्ष के लोग उसके हाथ-पैर बांधकर एक अंधेरे कमरे में बंधक बनाकर रखते थे, गर्भवती होने के बाद भी खाना नहीं देते थे और घर से बाहर नहीं निकलने देते थे।

- पुलिस ने बयान के बाद मामले की जांच शुरू कर दी है। दरअसल दमोह जिले के हटा की एक गर्भवती महिला ने पुराने कंट्रोल रूम के महिला सेल में आवेदन देकर पति, सास, ससुर और ननद पर दहेज में 3 लाख रुपए मांगने के नाम पर प्रताड़ित करने की बात कही है। उसकी साथ यह टॉर्चर गुड़गांव में हुआ। महिला पिता की मदद से दमोह पहुंची और पुलिस को आपबीती सुनाई।

- पूजा रैकवार ने बताया, उसकी शादी रामकेश के साथ 3 मार्च 2016 को शादी हुई थी। पति उसे अपने साथ गुड़गांव लेकर गया था। वहां पर पति, सास, ससुर और ननद दहेज में 3 लाख रुपए और एक बाइक की मांग को लेकर प्रताड़ित कर रहे थे।

- बीच में एक बार पति ने प्रताड़ित किया था तो थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी, पति ने गलती मानकर आवेदन वापस कराया था लेकिन दोबारा सबने प्रताड़ित करना शुरू कर दिया।

न तो खाने देते और न ही घर से बाहर निकलने देते
- महिला ने बताया, वह गर्भवती है और 9 वां महीना चल रहा है। मगर दहेज के लिए पति और परिवार के लोग प्रताड़ित कर रहे थे। न तो खाने देते हैं और न ही घर से बाहर निकलने देते। लंबे समय तक परिजनों से बात भी नहीं करने दी।


बेटी को लेने पहुंचे पिता को पीटा, दिमाग की नस फटी

- इस बीच उसने पड़ाेसी के मोबाइल से पिता भोलाराम को फोन कर आपबीती सुनाई। पिता 5 जून को मुझे लेने के लिए गुड़गांव पहुंचे तो उनको भी ससुराल वालों ने बुरी तरह पिटाई कर दी और सिर पर सरिया मार दिया। पिता के सिर पर घाव होने पर गुड़गांव पुलिस थाना गए, वहां की पुलिस ने मामला दमोह में दर्ज कराने की बात कहकर भेज दिया।

- महिला ने बताया कि उसके पिता के सिर पर गंभीर घाव आया है। उसका ऑपरेशन होना है।

- महिला मंगलवार को दमोह पहुंची, जहां पर उसकी एक निजी सेंटर पर सोनोग्राफी कराई गई। महिला की कमर और पेट में कई जगह चोट के निशान हैं।

- एसपी विवेक अग्रवाल का कहना है कि मामला अभी उनके पास नहीं आया है। महिला सेल से इसकी डिटेल ली जाएगी।

X
Torture to pregnant daughter-in-law
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..